मैं आपको उबारने के लिए मुख्यमंत्री बना हूं, डूबने नहीं दूंगा : शिवराजसिंह चौहान

Madhya Pradesh News

रायसेन जिले के ग्रामीण अंचल में पहुंची मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा
सुल्तानगंज/गैरतगंज। बेगमगंज और सुल्तानगंज में कोई भी गांव बांध के कारण डूबेगा नहीं। मैं आपको उबारने के लिए मुख्यमंत्री बना हूं, डूबने नहीं दूंगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने यह बात शनिवार को रायसेन जिले के सुल्तानगंज में जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान आयोजित जनसभा में कही। मुख्यमंत्री ने सभा में उपस्थित लोगों को आश्वस्त किया कि कोई गांव डूब में न आए, इसके लिए अधिकारियों को निर्देश दे दिए हैं।

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान की जनआशीर्वाद यात्रा शनिवार को रायसेन-विदिशा जिलों के ग्रामीण अंचल में पहुंची। यात्रा की शुरुआत रायसेन जिले के सुल्तानगंज से हुई। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान शनिवार सुबह हेलीकॉप्टर से सुल्तानगंज पहुंचे। हेलीपैड पर स्थानीय कार्यकर्ताओं और नेताओं ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। हेलीपैड से सभा स्थल की ओर जाते समय रास्ते में स्थानीय लोककलाकारों ने पारंपरिक नृत्य से मुख्यमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने यहां आमसभा को संबोधित किया। इस दौरान मंच पर प्रदेश के लोकनिर्माण मंत्री रामपाल सिंह सहित अन्य नेता और पदाधिकारी उपस्थित थे।

चौथी बार आशीर्वाद दें, बची हुई सड़क भी बन जाएगी

सुल्तानगंज में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि स्थानीय लोगों ने मुझे डूब में आने वाले गांवों के बारे में बताया है। मंत्री रामपाल सिंह ने भी इसका जिक्र किया है कि सुल्तानगंज और बेगमगंज के करीब 27 गांव प्रस्तावित बांध के कारण डूब में आ रहे हैं। आप चिंता न करें, मैंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को ताकीद किया है कि एक भी गांव डूब में नहीं आना चाहिए। मैं आप लोगों को उबारने के लिए मुख्यमंत्री बना हूं, किसी को डुबोने के लिए नहीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपके विधायक और मंत्री रामपाल सिंह ने सिलवानी विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत गांव-गांव तक सड़कों का जाल फैला दिया है। उन्होंने इस काम पर करीब 900 करोड़ रुपए खर्च किए हैं और वह बधाई के पात्र हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर कोई सड़क और बाकी रह गई होगी, तो मुझे चैथी बार आशीर्वाद दें, बाकी सड़कें भी बन जाएंगी।

कांग्रेस के राज में काला पानी कहलाता था सुल्तानगंज

मुख्यमंत्री ने कहा कि सुल्तानगंज का आज जो स्वरूप दिखाई दे रहा है, वह पहले नहीं था। अंग्रेजों के जमाने से लेकर कांग्रेस के शासनकाल तक इसे काला पानी के रूप में जाना जाता था। कोई भी सरकारी अधिकारी या कर्मचारी यहां नौकरी करना पसंद नहीं करता था। कारण यह था कि न यहां सड़कें थीं, न आने-जाने के साधन थे और बिजली न होने के कारण अंधेरा छाया रहता था। शाम होते ही लोग घरों में दुबक जाते थे। अंधेरा होने के कारण कोई बाहर निकलना पसंद नहीं करता था। जब से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है, हमने हर घर में उजाला किया है। गांव-गांव में सड़कें बनी हैं। स्कूल बन रहे हैं। हर गांव-कस्बे में मानव जीवन के लिए जरूरी सभी प्राथमिक सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। सुल्तानगंज भी बदल गया है, अब कोई इसे काला पानी नहीं कहता है।

मन लगाकर पढ़ो भांजियो, कोई कठिनाई नहीं आने दूंगा

सुल्तानगंज में हेलीपैड से सभा स्थल जाने के रास्ते में मुख्यमंत्री को हायर सेकंडरी स्कूल की कुछ छात्राएं सड़क पर आती दिखीं, तो मुख्यमंत्री उन्हें देख कर रुक गए। उन्होंने छात्राओं का अभिवादन स्वीकार किया और उनसे बातचीत भी की। मुख्यमंत्री ने उनकी पढ़ाई का हाल पूछा और भांजियों से कहा कि मन लगाकर पढ़ो, पढ़ाई में आगे कोई कठिनाई नहीं आने दूंगा। वहीं, सिलवानी में सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान ने कहा कि कांग्रेस के राज में प्रदेश में सिर्फ 250 कॉलेज हुआ करते थे, हमने इनकी संख्या बढ़ाकर 541 कर दी है। सिलवानी में भी एक कॉलेज खुला है। मुख्यमंत्री ने कांग्रेसियों से पूछा कि उन्होंने अभी तक सिलवानी में कॉलेज क्यों नहीं खुलवाया? मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने स्कूली बच्चियों को साइकिल दिलाई, गणवेश दिलाई, किताबें दिलाई और अब कॉलेज में एडमिशन लेने पर फीस भरवाने का काम भी शिवराज मामा ने अपने हाथ में लिया है।

अमेठी मॉडल बना नहीं, चित्रकूट मॉडल कैसे बनाएंगे राहुल

सिलवानी में सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि राहुल गांधी अमेठी को मॉडल बना नहीं पाए, लेकिन मध्यप्रदेश में चित्रकूट मॉडल बनाने की बात करते हैं। इन्हें यह तो पता नहीं है कि गेहूं जमीन के अंदर होता है, या जमीन के ऊपर। मुख्यमंत्री ने कहा राजा-महाराजा, उद्योगपति सब मिलकर अब किसानों की बात करने लगे हैं। इसके पहले जब किसान परेशान था, तब उसकी परेशानी दूर करने नहीं आए। भाजपा सरकार ने जब किसानों की समस्याएं दूर करने के लिए योजनाओं का पिटारा खोल दिया, तो इन्हें भी किसानों की याद सताने लगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को सिंचाई के लिए पानी, खाद बीज और फसल का मुआवजा देने का काम भाजपा सरकार ने किया है, कांग्रेस ने नहीं।

कांग्रेसी चिल्लाते रहें, आशीर्वाद लेने से कौन रोक सकता है

मुख्यमंत्री ने कहा कि आचार संहिता लगने के बाद अब कांग्रेस के लोग चिल्ला रहे हैं- शिवराज को रोको, जनआशीर्वाद यात्रा को रोको। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें पता नहीं है कि हमने जनता का आशीर्वाद लेने के लिए यह रथ यात्रा आचार संहिता लगने से काफी पहले चालू कर दी थी। उन्होंने कहा कि मुझे जनता का आशीर्वाद लेने से भला कौन रोक सकता है ? लेकिन कांग्रेसियों को दिन रात सिर्फ यही याद आता है, शिवराज को रोको, जनआशीर्वाद यात्रा को रोको। मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘सबका साथ सबका विकास’ को लेकर मध्यप्रदेश में भाजपा सरकार ने सभी वर्गों के लिए योजनाएं बनाई हैं। किसी जाति या वर्ग को हमने अपनी योजनाओं में छोड़ा नहीं है। चाहे संबल हो, या लाड़ली लक्ष्मी योजना, सभी योजनाओं में हर वर्ग को लाभ दिया गया है।

38 गांवों घरों तक पहुंचेगा पेयजल, सड़कों से जुड़ेंगे 40 गांव

गैरतगंज में मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि बेटियों को हैंडपंप से पानी भरता हुआ देखकर मुझे तकलीफ होती है। इसलिए हमने तय किया है आने वाले समय में किसी भी महिला और बेटी को हैंडपंप से पानी भरने की जिल्लत नहीं उठाने देंगे। हर घर में नल से पानी मिलेगा। 38 गांव नल-जल योजना से जोड़े जाएंगे और 42 गांवों में सड़कें बनवाई जाएंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने अभी तक 2100000 महिलाओं को साड़ी, चप्पल और पानी की कुप्पी दी है, जिस पर कांग्रेस के मित्रों को एतराज हो रहा है। वह कहने लगे हैं चप्पल मत पहनना कैंसर हो जाएगा। अरे अकल के पूरो, चप्पल से कहीं कैंसर होता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब मैं महिलाओं को चप्पल दे रहा था, तो भाइयों ने पूछा कि हमारे लिए क्या है ? तो हमने उन्हें जूते पहना दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार किसी भी घर में अभाव नहीं रहने देगी और जिंदगी को खुशहाल बनाएगी। यहां मुख्यमंत्री की सभा के दौरान मंत्री श्री गौरीशंकर शेजवार भी उपस्थित थे।

Leave a Reply