यहां कांग्रेसी जितना मेरा नाम लेते हैं, उतना भगवान का लें तो मोक्ष मिल जाए : शिवराज सिंह

Madhya Pradesh News

बुधनी में नामांकन भरने से पहले मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं को दिलाया रिकॉर्ड जीत का संकल्प
o शिवराज भैया राज करो, हम तुम्हारे साथ हैं के नारों से गूंज उठा बुधनी
o कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री को दिया अपने दम पर बुधनी में रिकॉर्ड जीत का आश्वासन
बुधनी। कांग्रेस के राजा-महाराजा, उद्योगपतियों को लगता है कि यह जैत वाला कहां से आकर बैठ गया। उन्हें रातों को नींद नहीं आती और वे रात-दिन मेरा नाम लेते हैं। कांग्रेसी जितना मेरा नाम लेते हैं, उतना अगर भगवान का लें, तो उन्हें मोक्ष मिल जाए। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने सोमवार को बुधनी में नामांकन पत्र जमा करने से पहले कार्यकर्ताओं से कही। उन्होंने कार्यकर्ताओं को रिकॉर्ड जीत का संकल्प भी दिलाया। इस दौरान मंच पर मुख्यमंत्री की पत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान श्री रमाकांत भार्गव, श्री रघुनाथ सिंह भाटी सहित स्थानीय वरिष्ठ नेता उपस्थित थे।


मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने सोमवार को अपने विधानसभा क्षेत्र बुधनी में नामांकन पत्र दाखिल किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री की पत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान श्री रमाकांत भार्गव उपस्थित थे। इससे पहले मुख्यमंत्री अपने गृह ग्राम पहुंचे, जहां उन्होंने सपत्नीक मां नर्मदा और कुलदेवी की पूजा-अर्चना की। मुख्यमंत्री सलकनपुर धाम भी पहुंचे, जहां उन्होंने मां बिजासन के दर्शन किए और आशीर्वाद लिया। इसके उपरांत मुख्यमंत्री बुधनी पहुंचे, जहां उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के उपरांत नामांकन पत्र दाखिल किया।


जनता मेरी भगवान, मैं उसका पुजारी
कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेसी मेरे परिवार पर आक्षेप लगाते हैं, लेकिन मेरा परिवार छोटा नहीं है। मेरा कुनबा बहुत बड़ा है और प्रदेश की 7.5 करोड़ जनता मेरा परिवार है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की जनता मेरी भगवान है और मैं उसका पुजारी हूं। ईश्वर जानता है, मेरी हर सांस प्रदेश की जनता के लिए चली है। जनता मेरी सांसों में बसी है और अगर जनता के पांव में कांटा भी चुभ जाए, तो तकलीफ मेरे सीने में होती है। उन्होंने कहा कि मैंने हमेशा जनता के दुख को अपना दुख और जनता के सुख को अपना सुख माना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बड़े परिवार के मुखिया के नाते हमेशा मेरी कोशिश रही कि मैं जनता की तकलीफों को पी जाऊं।


समृद्ध बुधनी, समृद्ध मध्यप्रदेश बनाउंगा
मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कार्यकर्ताओं से कहा कि पिछले सालों में बुधनी में क्या-क्या काम हुए हैं, यह आप सब के सामने हैं। अगले पांच सालों में मैं समृद्ध बुधनी और समृद्ध मध्यप्रदेश बनाउंगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि समृद्ध मध्यप्रदेश का मतलब ये है कि किसानों को उनकी उपज का पूरा मूल्य मिले। बच्चों को अपनी पढ़ाई के लिए माता-पिता पर आश्रित न रहना पड़े। समृद्ध मध्यप्रदेश का मतलब यह है कि माताओं-बहनों की आंखों में आंसू न रहें। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले पांच सालों में मैं प्रदेश से गरीबी मिटा दूंगा और मजदूर, मजदूर नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि हम नए उद्योग-धंधों को लाएंगे और प्रदेश के युवाओं को 10 लाख रोजगार उपलब्ध कराएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि समृद्ध मध्यप्रदेश का मतलब है कि प्रदेश के सब लोग सुखी हों। उन्होंने कहा कि सरकार ने अपनी योजनाओं में किसी वर्ग को नहीं छोड़ा, सबके लिए योजनाएं लागू कीं।


मैं कांग्रेसियों के रास्ते का कांटा बन गया हूं
मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश जब आगे बढ़ा, तो कांग्रेसियों को अच्छा नहीं लगा। वे मुझे गालियां देने लगे। मुझे गाली दिए बिना उनका दिन पूरा नहीं होता है। अब तो वे मेरे बेटे को भी गाली देने लगे हैं। पता नहीं कहां-कहां से आरोप उठा लाते हैं और मढ़ देते हैं। वे मर्यादाएं लांघ रहे हैं और व्यक्तिगत आक्षेप भी लगाते हैं। ये सब इसलिए क्योंकि मैं उनकी सरकार के रास्ते में कांटा बन गया हूं। उनको लगने लगा है कि जब तक ये नहीं हटेगा, सरकार नहीं बनेगी। देखते-देखते 15 साल हो गए। कांग्रेस के राजा-महाराजा उद्योगपति सोचने लगे हैं कि ये जैत वाला कहां से बैठ गया। लेकिन मुझे इनकी चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि भगवान का आशीर्वाद मेरे साथ है। प्रदेश और बुधनी की जनता के आशीर्वाद का आत्मविश्वास मेरे साथ है।


आप बुधनी में जीत का रिकॉर्ड बनाएं, मैं फिर सरकार बनाकर इतिहास रचूंगा
मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह ने कार्यकर्ताओं से कहा कि एक वचन आप दीजिए, एक वचन मैं दूंगा। उन्होंने कहा कि मैं प्रदेश की 229 सीटों पर भाजपा को जिताने जाउंगा, लेकिन बुधनी नहीं आऊंगा। बुधनी आपके हवाले है, इसे आप संभालिए और मैं प्रदेश में भाजपा को जिताकर फिर सरकार बनाने का वादा करता हूं। मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं से पूछा कि बताइये, आप संभालेंगे बुधनी को, तो कार्यकर्ताओं ने हाथ उठाकर मुख्यमंत्री से सहमति जताई। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं इसी धरती पर पैदा हुआ हूं और आपके आशीर्वाद से इसे देश और प्रदेश में नई पहचान दी है।

सब कुछ भूलकर काम में जुट जाएं

मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं से कहा कि चुनाव विकास और भलाई के लिए होते हैं। इस बड़े लक्ष्य को हासिल करने के लिए कार्यकर्ता सब कुछ भूलकर जुट जाएं। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में आपको हर दरवाजा खटखटाना है, हर हितग्राही से संपर्क करना है। उन्होंने कहा कि अपने मतभेद भुलाकर हर वर्ग, हर समाज एक हो जाएं और एक होकर कहें कि हम विकास के साथ हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि बुधनी के कार्यकर्ता आदर्श कार्यकर्ता हैं। मैं बुधनी आपको सौंप रहा हूं और 28 नवंबर तक इसे आप देखें। मुख्यमंत्री ने कहा कि बुधनी में ऐसी जीत होगी कि पूरा हिंदुस्तान देखेगा। मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं को रिकॉर्ड मतों से जीत हासिल करने का संकल्प भी दिलाया।

Leave a Reply