नदी को स्वच्छ बनाने का उदाहरण बनेगी नर्मदा सेवा यात्रा

Latest

भोपाल : शुक्रवार, मार्च 24, 2017
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नर्मदा सेवा यात्रा नदी को स्वच्छ बनाने का उदाहरण प्रस्तुत करने का प्रयास है। श्री चौहान आज ‘डाउन टू अर्थ’ पत्रिका के हिन्दी संस्करण के विमोचन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दुनिया को बचाने के लिये प्रकृति के साथ छेड़-छाड़ को बंद करना होगा। नर्मदा सेवा यात्रा प्रकृति के साथ संतुलन बनाकर दुनिया को बचाने का विनम्र प्रयास है। उन्होंने कहा कि अलग-अलग दृष्टिकोण से नदियों के संरक्षण के प्रति सक्रिय व्यक्तियों, संस्थाओं और संगठनों को एकत्रित करने का मंच देने की कोशिश नर्मदा सेवा यात्रा है। प्रयास है कि पर्यावरणविद् वैज्ञानिक, समाज, धर्म, राजनीतिक कार्यकर्ता, साहित्कार, कलाकार, आस्था, विश्वास, श्रद्धा आदि हर दृष्टिकोण के लोग नदी संरक्षण के लिये यात्रा के माध्यम से आगे आये।

श्री चौहान ने नर्मदा नदी संरक्षण के लिये फलदार पेड़ लगवाने, विसर्जन कुंड, मुक्तिधाम, ट्रीटमेंट प्लांट, शौचालय बनवाने के कायों की जानकारी देते हुए बताया कि यात्रा से सामाजिक सोच में परिवर्तन आया है। पूजन पद्धति में बदलाव की प्रभावी कोशिशें हो रही हैं। उन्होंने बताया कि आगामी 2 जुलाई को नर्मदा के उद्गम से प्रदेश की सीमा तक नर्मदा के दोनों तट पर एक दिन में फलदार पौधों का रोपण करवाया जायेगा। इस दिन पचास लाख से अधिक व्यक्ति नर्मदा तट पर एकत्रित होंगे। उन्होंने कहा कि पर्यावरण संरक्षण के साथ ही सामाजिक मुद्दों, बेटी बचाओ, साक्षरता और नशामुक्ति के लिये भी जन चेतना निर्माण के प्रयास किये गये हैं। प्रदेश में 1 अप्रैल से नर्मदा तट के दोनों ओर शराब की दुकानें बंद हो जायेगी। क्षिप्रा, ताप्ती और बेतवा नदी के संरक्षण का कार्य भी करवाया जायेगा।

विज्ञान एवं पर्यावरण केंद्र की निदेशक सुश्री सुनीता नारायण ने कहा कि समाज को नदी से जल की जितनी आवश्यकता है, उतनी ही नदी को भी है। प्रदेश में नर्मदा नदी संरक्षण की समय रहते पहल शुरू हुई है। नर्मदा की इस चिंता से वह निरंतर बहती रहेगी, अविरल रहेगी। उन्होंने कहा कि सामान्यत:पर्यावरण बचाने की कोशिशें तब शुरू की जाती हैं, जब तबाही हो चुकी होती है। नर्मदा नदी के साथ ऐसा नहीं हुआ है। इस अवसर पर उन्होंने ‘डाउन टू अर्थ’ पत्रिका के हिन्दी संस्करण और प्रकाशन के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला। आभार प्रदर्शन वरिष्ठ पत्रकार श्री गिरिजा शंकर ने किया। इस अवसर पर विधायक और प्रमुख सचिव जनसंपर्क श्री एस.के.मिश्रा भी मौजूद थे।

Leave a Reply