• Mon. Jul 22nd, 2024

बच्चों को संस्कारो की शिक्षा दें तो वह नहीं होगा जो दिल्ली में साक्षी के साथ हुआ :-पंडित प्रदीप मिश्रा (सीहोर वाले)

बच्चों को संस्कारो की शिक्षा दें तो वह नहीं होगा जो दिल्ली में साक्षी के साथ हुआ :-पंडित प्रदीप मिश्रा (सीहोर वाले)
shrishivmahapurankathainbhopal,pradipmishra,panditpradipmishra,panditpradipmishrasehorewale,bhopal,sakshimurderfile pic
भोपाल के करोंद में चल रही श्री महाशिवपुराण कथा में पंडित प्रदीप मिश्रा ने कहा की माता पिता आजकल बच्चों को पढ़ाई के साथ संस्कारो की शिक्षा देने भूल गए है | यदि वह बच्चों को उच्च शिक्षा के साथ संस्कारों की शिक्षा दें तो वह नहीं होगा जो दिल्ली में साक्षी के साथ हुआ | पंडित मिश्रा ने कहा बच्चों को मंदिर व सत्संग में भेजा जायेगा तो माता पिता को बुढ़ापे में वृद्धाश्रम में नहीं जाना पड़ेगा | पंडित मिश्रा ने कहा की बच्चों को फ्रैंक बनाने के चक्कर में माता पिता उन्हें मंदिर ले जाने और एक लोटा जल चढ़ाने का संस्कार नहीं दें पा रहे है |
पंडित मिश्रा ने कहा की राजा भोज की नगरी पर शिव की महान अनुकम्पा है , जो यहाँ महामृंत्युजय शिवपुराण कथा आयोजित हो रही है | शिव कृपा सम्पूर्ण विश्व में व्याप्त है | जब तक शिव की कृपा नहीं होती जीवन में हम एक कदम भी आगे नहीं बढ़ सकते | शिव पुराण में २४ हजार श्लोक है , उनमे से एक श्लोक ही नहीं , बल्कि एक मात्र शब्द को भी धारण कर लेने से यह मानव देह परम सिद्ध हो जाता है |

पंडित प्रदीप मिश्रा की कथा में प्रेरक शिक्षा |
जिस घर के बच्चे मंदिर की सीढ़ी चढ़ जाते है उस घर के बुजुर्ग वृद्धाश्रम नहीं जाते |
घर में बनाओगे अनुशासन तो कभी पैदा नहीं होगा दुशासन |
परमात्मा के द्वार पर जाति नहीं ,बल्कि सद्कर्म देखे जाते है |
किसी के पास जाने से नहीं ,बल्कि भगवन शंकर को एक लोटा जल चढ़ाने से विधि का विधान पलट जाता है |
नीबू मिर्ची बांधने से नज़र नहीं लगती है इस प्रपंच से निकले ,बच्चों को नज़र से बचाने क्यों नहीं बांधते नीबू मिर्ची |
===================================Courtesy===========================
बच्चों को संस्कारो की शिक्षा दें तो वह नहीं होगा जो दिल्ली में साक्षी के साथ हुआ :-पंडित प्रदीप मिश्रा (सीहोर वाले)
shrishivmahapurankathainbhopal,pradipmishra,panditpradipmishra,panditpradipmishrasehorewale,bhopal,sakshimurder

aum

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *