• Mon. Jul 22nd, 2024

प्रधानमंत्री श्री मोदी की “मन की बात” देश के जन-जन की बात : मुख्यमंत्री चौहान

प्रधानमंत्री श्री मोदी की “मन की बात” देश के जन-जन की बात : मुख्यमंत्री चौहान
todayindia,todayindianews,todayindia24,shivrajsinghchouhan,mpcm,mpnews100 एपिसोड होने पर प्रधानमंत्री श्री मोदी का अभिनंदन
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लाड़ली बहनों के साथ सुना “मन की बात” का 100 वां एपिसोड
भोपाल के पीपुल्स माल में बहनों से किया संवाद

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की मन की बात देश के जन-जन की बात है। यह एक सामाजिक आंदोलन और जनक्रांति बन गई है। प्रधानमंत्री की “मन की बात” से बेहतर कार्य करने वाले अलग-अलग लोगों को समाज के सामने लाने का मौका मिला है। मन की बात कार्यक्रम के 100 एपिसोड पूरे होने पर प्रधानमंत्री श्री मोदी का हृदय से अभिनंदन करता हूँ। स्वच्छता आंदोलन, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, जल-संरक्षण जैसे समाज-सुधार के साधनों और वोकल फॉर लोकल जैसी गतिविधियों को मन की बात से प्रोत्साहन मिला है। लोग अपनी भावनाओं का प्रकटीकरण भी प्रधानमंत्री श्री मोदी के सामने इस माध्यम से कर पाते हैं। देश में मन की बात ने सामाजिक क्रांति का शंखनाद किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री मोदी के मन की बात कार्यक्रम के 100 वें एपिसोड को भोपाल के पीपुल्स माल के सभागार में लाड़ली बहना योजना की अभ्यार्थियों के साथ सुना और कार्यक्रम के बाद उन्हें संबोधित भी किया। विधायक श्रीमती कृष्णा गौर सहित श्री लोकेश पाराशर, श्री सुमित पचौरी और बड़ी संख्या में क्षेत्र की महिलाएँ उपस्थित हुईं।

शहरों में भी बनेंगे महिला स्व-सहायता समूह

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मन की बात सुनने आईं लाड़ली बहना योजना की अभ्यार्थियों को प्रेरित करते हुए कहा कि वे आँसू बहाने के लिए पैदा नहीं हुई हैं। बहन-बेटियाँ मजबूर न रहें, मजबूत बनें, इसके लिए राज्य सरकार अनेक कार्यक्रम और योजनाएँ संचालित कर रही है। बहनें संकल्प लें कि वे गरीब नहीं रहेंगी। राज्य सरकार द्वारा शहरों में भी महिला स्व-सहायता समूह गठित करने का अभियान शुरू किया जा रहा है। इसमें बहनों का बैंक लिंगेज सुनिश्चित किया जाएगा और अपने काम-धंधे आरंभ करने के लिए 2 प्रतिशत ब्याज पर ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। हमारा संकल्प है कि प्रत्येक महिला महीने में कम से कम 10 हजार रूपए कमाए और आत्म-सम्मान एवं आत्म-विश्वास के साथ जीवन जिये।

दो मई को मनेगा लाड़ली लक्ष्मी दिवस

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ईश्वर ने बेटा-बेटी को समान बनाया, परंतु ऐतिहासिक क्रम में महिलाओं के साथ दूसरे दर्जे का व्यवहार करना समाज की रीति ही बन गई। लोग बेटे को बुढ़ापे का सहारा और कुल का दीपक मानने लगे जबकि वास्तविकता यह है कि बेटी ही अंतिम समय तक माता-पिता का साथ देती है और किसी भी स्थिति में बेटों से कम नहीं है। विज्ञान के क्षेत्र में हुई प्रगति का भी बेटी के जन्म को रोकने के लिए उपयोग किया गया। पुरूष प्रधान समाज में बेटियों और बहनों की स्थिति निरंतर बद्दतर होती चली गई। पीड़ा और वेदना से भरे इस परिदृश्य को बदलने के लिए ही राज्य सरकार ने लाड़ली लक्ष्मी योजना, बेटियों की पढ़ाई के लिए विभिन्न योजनाएँ, मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना सहित अनेकों योजनाएँ क्रियान्वित की। महिला सशक्तिकरण के लिए शासकीय सेवा, पंचायत और नगरीय चुनावों में आरक्षण और महिलाओं के नाम अचल संपत्ति के पंजीयन में विशेष छूट जैसी व्यवस्था की गई। महिलाओं ने भी उन्हें सौंपी गई हर जिम्मेदारी को बखूबी निभाया है। प्रदेश में 45 लाख बेटियाँ लाड़ली लक्ष्मी योजना से जुड़ी हैं, प्रदेश में 2 मई को लाड़ली लक्ष्मी दिवस मनाया जाएगा।

10 जून महिलाओं के लिए क्रांति का दिन होगा- खाते में आएगी लाड़ली बहना योजना की राशि

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीब और निम्न मध्यम परिवार की महिलाओं की जिंदगी बदलने के लिए हमारी सरकार संकल्पित है। उन्हें आत्म-निर्भर बनाने में लाड़ली बहना योजना प्रभावी सिद्ध होगी। योजना में रोजमर्रा की जरूरतों की पूर्ति के लिए प्रतिमाह 1000 रूपए बहनों के खाते में डाले जायेंगे। राखी के बंधन को निभाने की भावना से साल में एक बार नहीं हर महीने बहनों को कुछ न कुछ देने के लिए ही लाड़ली बहना योजना में प्रतिमाह राशि जारी करने की व्यवस्था की गई है। प्रदेश में एक करोड़ 20 लाख से अधिक बहनों ने योजना में आवेदन किया है। सभी पात्र बहनों से अपील है कि वे योजना में आवेदन अवश्य करें। मई माह में आवेदनों की जाँच के बाद 10 जून को बहनों के खाते में राशि जारी की जाएगी। यह दिन महिलाओं के लिए क्रांति का दिन होगा।

मुख्यमंत्री के साथ बहनों ने सुर में सुर मिलाते हुए गाया गीत

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कृष्णा सामाजिक एवं सांस्कृति संस्था द्वारा महिलाओं को तीन माह का सेनेटरी नेपकिन नि:शुल्क उपलब्ध कराने के अभियान का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री का फूलों की विशाल माला पहना कर स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने “फूलों का तारों का सबका कहना है- एक हजारों में मेरी बहना है” गीत गाया, तो मौजूद हजारों बहनों ने मुख्यमंत्री के साथ सुर से सुर मिलाये।
=============================================================================
प्रधानमंत्री श्री मोदी की “मन की बात” देश के जन-जन की बात : मुख्यमंत्री चौहान
todayindia,todayindianews,todayindia24,shivrajsinghchouhan,mpcm,mpnews

aum

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *