दस हजार एकड़ में आम, संतरे का पौधरोपण

7,000 किसानों की आय में इजाफा होगा
मध्यप्रदेश में अगले एक साल में एक हजार एकड़ और पाँच साल में दस हजार एकड़ में अल्ट्राहाईडेंसिटी के आम और संतरे का पौधरोपण किया जाएगा। इससे अगले तीन साल में प्रति वर्ष प्रति एकड़ किसानों को एक से डेढ़ लाख रुपए की शुद्ध आय होगी। मुख्यमंत्री कमल नाथ के साथ आज मंत्रालय में कोका कोला कंपनी और जैन इरीगेशन कंपनी के प्रतिनिधियों के साथ हुई बैठक में यह तय किया गया।(increase farmer income)(todayindia)(latest news)(breaking news)(national news)(bollywood news)(cricket news)(sports news)(political news)

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा देकर हम किसानों की आय को दोगुना कर पाएंगे। इसके लिए जरूरी है कि निजी क्षेत्र के सहयोग से ऐसे क्षेत्रों को चिन्हित करें जहाँ पर उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा दिया जा सकता है।

राज्य सरकार के सहयोग से कोका कोला और जैन इरीगेशन कंपनी हरदा, होशंगाबाद, बैतूल, मंडला, डिंडौरी जिले में आम और आगर मालवा, शाजापुर एवं छिंदवाड़ा जिले में संतरे की खेती को प्रोत्साहित करेगी। पहले साल में एक हजार और अगले पाँच साल में दस हजार एकड़ में आम और संतरे की खेती की जाएगी। इससे पहले साल में 700 किसान और पाँच साल में 7000 किसान लाभान्वित होंगे।

एक एकड़ में 500 प्लान्ट लगाने के लिए टीश्यू कल्चर पद्धति से तैयार पौधे किसानों को दिए जाएंगे। इसके लिए उन्हें ड्रिप इरीगेशन की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी। इस वर्ष सितंबर – अक्टूबर में उद्यानिकी विभाग 25 एकड़ में प्रदर्शन के रूप पौधरोपण करेगी और जनवरी अंत तक एक हजार एकड़ में किसानों के खेतों में अल्ट्राहाईडेंसिटी के प्लांटेशन करेगी।

कोका कोला कंपनी जरका जलगांव में तत्काल और तीन साल में बाबई में फ्रूट जूस बनाने के लिए खाद्य प्रसंस्करण ईकाई स्थापित करेगी।

बैठक में मुख्यसचिव श्री एस.आर. मोहन्ती, अपर मुख्य सचिव उद्यानिकी श्री इकबाल सिंह बैस, अपर मुख्य सचिव जल संसाधन श्री एम. गोपाल रेड्डी, प्रमुख सचिव उद्योग श्री राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव कृषि श्री अजित केसरी एवं कोका कोला कंपनी के वाइस प्रेसीडेंट श्री असीम पारिख तथा जैन इरीगेशन के सैंट्रल इंडिया प्रमुख श्री संजय भंडारी उपस्थित थे।

मध्यप्रदेश में अगले एक साल में एक हजार एकड़ और पाँच साल में दस हजार एकड़ में अल्ट्राहाईडेंसिटी के आम और संतरे का पौधरोपण किया जाएगा। इससे अगले तीन साल में प्रति वर्ष प्रति एकड़ किसानों को एक से डेढ़ लाख रुपए की शुद्ध आय होगी। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के साथ आज मंत्रालय में कोका कोला कंपनी और जैन इरीगेशन कंपनी के प्रतिनिधियों के साथ हुई बैठक में यह तय किया गया।

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा देकर हम किसानों की आय को दोगुना कर पाएंगे। इसके लिए जरूरी है कि निजी क्षेत्र के सहयोग से ऐसे क्षेत्रों को चिन्हित करें जहाँ पर उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा दिया जा सकता है।

राज्य सरकार के सहयोग से कोका कोला और जैन इरीगेशन कंपनी हरदा, होशंगाबाद, बैतूल, मंडला, डिंडौरी जिले में आम और आगर मालवा, शाजापुर एवं छिंदवाड़ा जिले में संतरे की खेती को प्रोत्साहित करेगी। पहले साल में एक हजार और अगले पाँच साल में दस हजार एकड़ में आम और संतरे की खेती की जाएगी। इससे पहले साल में 700 किसान और पाँच साल में 7000 किसान लाभान्वित होंगे।

एक एकड़ में 500 प्लान्ट लगाने के लिए टीश्यू कल्चर पद्धति से तैयार पौधे किसानों को दिए जाएंगे। इसके लिए उन्हें ड्रिप इरीगेशन की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी। इस वर्ष सितंबर – अक्टूबर में उद्यानिकी विभाग 25 एकड़ में प्रदर्शन के रूप पौधरोपण करेगी और जनवरी अंत तक एक हजार एकड़ में किसानों के खेतों में अल्ट्राहाईडेंसिटी के प्लांटेशन करेगी।

कोका कोला कंपनी जरका जलगांव में तत्काल और तीन साल में बाबई में फ्रूट जूस बनाने के लिए खाद्य प्रसंस्करण ईकाई स्थापित करेगी।

बैठक में मुख्यसचिव श्री एस.आर. मोहन्ती, अपर मुख्य सचिव उद्यानिकी श्री इकबाल सिंह बैस, अपर मुख्य सचिव जल संसाधन श्री एम. गोपाल रेड्डी, प्रमुख सचिव उद्योग श्री राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव कृषि श्री अजित केसरी एवं कोका कोला कंपनी के वाइस प्रेसीडेंट श्री असीम पारिख तथा जैन इरीगेशन के सैंट्रल इंडिया प्रमुख श्री संजय भंडारी उपस्थित थे।(increase farmer income)(todayindia)(latest news)(breaking news)(national news)(bollywood news)(cricket news)(sports news)(political news)




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *