राहुल माफी मांगे या थरूर को बाहर निकाले: कैलाश विजयवर्गीय

शिवजी का अपमान और मंदिर में पूजा का ढोंग एक साथ नहीं चलेगा
भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राहुल गांधी से सवाल किया कि एक ओर राहुल गांधी महाकाल मंदिर जाकर दर्शन करते हैं, वहीं दूसरी ओर उनके पार्टी के नेता शशि थरूर शिवलिंग पर चप्पल मारने की बात करते हैं, क्या यह उचित है? उन्होंने कहा कि थरूर के बयान के लिए राहुल गांधी देश की जनता से माफी मांगे या थरूर को पार्टी से बाहर निकाले।  विजयवर्गीय होशंगाबाद रोड स्थित मीडिया सेंटर मंे पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे।


उन्होंने कहा कि यदि राहुल गांधी शशि थरूर के बयान से सहमत हैं तो देश की जनता यह समझ जाएगी कि वे मंदिर जाने, तिलक लगाने और जनेउ पहनने का सिर्फ ढांेग कर रहे हैं और अगर राहुल गांधी को यह लगता है कि शशि थरूर ने गलत कहा है तो राहुल को सार्वजनिक तौर पर देश की जनता से माफी मांगना चाहिए या शशि थरूर को तत्काल पार्टी से बाहर करना चाहिए।


श्री विजयवर्गीय ने कहा कि लोकसभा के चुनाव में कांग्रेस की करारी हार हुई थी, उसके बाद एंटोनी कमेटी बनी थी। उस कमेटी ने एक रिपोर्ट तैयार की थी, जिसमें यह उल्लेखित था कि कांग्रेस पार्टी की पहचान मुस्लिम पार्टी के रूप में है और चाल-चरित्र और चेहरा बदलने की आवश्यकता है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी रिपोर्ट की उन्हीं आवश्यकताओं के


लिए मंदिर-मंदिर जाने का नाटक कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मंदिर जाने से सद्बुद्धि आती है भले ही राहुल गांधी विशेष प्रयोजन के लिए मंदिर-मंदिर जा रहे हैं, भगवान उन्हें सद्बुद्धि देगा ताकि वे शशि थरूर के बयान पर जनता से माफी मांगे या शशि थरूर को पार्टी से बाहर करें।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *