कांग्रेस नेता की अशोभनीय टिप्पणी से कांग्रेस की महिला विरोधी मानसिकता उजागर

Latest News

(प्रदेश भर में कांग्रेस नेता का पुतला दहन)
भोपाल। भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की प्रदेश कोषाध्यक्ष एवं सागर (सुरखी) विधायक श्रीमती पारूल साहू के विरूद्ध कांग्रेस के पूर्व विधायक गोविन्द राजपूत द्वारा अपमानजनक टिप्पणी किए जाने के विरोध में आज महिला मोर्चा द्वारा जिला केंद्रों पर गोविंद राजपूत का पुतला दहन कर कांग्रेस से मांग की गई कि वह महिला विरोधी टिप्पणी के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगे। राजधानी के बोर्ड आॅफिस चौराहे पर बड़ी संख्या में मोर्चा की बहनों ने विरोध प्रदर्शन कर कांग्रेस नेता राजपूत का पुतला दहन किया।

प्रदर्शन को संबोधित करते हुए पार्टी की प्रदेश मंत्री एवं मोर्चा की प्रदेश प्रभारी श्रीमती कृष्णा गौर ने कहा कि जिस देश में नारियों का आदर किया जाता है, देवताओं की तरह पूजा जाता है, उस देश में कांग्रेस नेता नारी का मान मर्दन करने का काम कर रहे हैं। एक ओर जहां मध्यप्रदेश की धरती पर महिलाओं एवं बेटियों के प्रति संवेदनशील सरकार मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में महिलाओं के मान, सम्मान और स्वाभिमान का आगे बढ़ाने का काम कर रही है, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस पार्टी के नेता महिलाओं का अपमान कर उन्हें नीचा दिखाने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जनता के बीच से चुनी हुई बहन विधायक श्रीमती पारूल साहू के प्रति कांग्रेस के पूर्व विधायक गोविंद राजपूत अशोभनीय और अमर्यादित टिप्पणी करते हैं, जिसकी जितनी निंदा की जाये कम है। राजपूत कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारी हैं और उनकी दूषित मानसिकता ने कांग्रेस की महिला विरोधी मानसिकता को उजागर किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की संस्कृति हमेशा महिलाओं का अपमान करने की रही है, जिसका प्रत्यक्ष उदाहरण सरला मिश्रा हत्याकांड और नैना साहनी हत्याकांड है जिसे देश की जनता भूल नहीं सकती।

महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती लता ऐलकर ने कहा कि कांग्रेस नेता गोविंद राजपूत की टिप्पणी लज्जाजनक है। कांग्रेस की महिला विरोधी मानसिकता आज उजागर हुई है। कांग्रेस नेता लगातार महिलाओं का अपमान कर रहे हैं, लेकिन कांग्रेस नेतृत्व इस पर मौन है। उन्होंने राहुल गांधी से प्रश्न पूछा की गोविंद राजपूत द्वारा विधायक श्रीमती पारूल साहू पर की गई अशोभनीय टिप्पणी पर उनका मौन क्यों हैं ? उन्होंने मांग की है कि कांग्रेस पार्टी श्री गोविंद राजपूत पर कार्यवाही कर, सार्वजनिक तौर पर विधायक श्रीमती पारूल साहू से माफी मांगे, अन्यथा महिला मोर्चा उनका विरोध जारी रखेगा। श्रीमती ऐलकर ने बताया कि प्रदेश के जिला केंद्रों पर धरना देकर कांग्रेस नेता राजपूत का पुतला दहन किया गया। प्रदर्शन को मोर्चा की पूर्व अध्यक्ष वरिष्ठ नेत्री ऊषा चतुर्वेदी ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर जिला अध्यक्ष व विधायक श्री सुरेन्द्रनाथ सिंह, प्रदेश कार्यालय मंत्री श्री सत्येन्द्र भूषण सिंह, प्रदेश मीडिया प्रभारी श्री लोकेन्द्र पाराशर, श्री संजय वर्मा, सुश्री सरिता देशपाण्डे, श्रीमती माया नारोलिया, श्रीमती तुलसा वर्मा, श्री आशा सेंगर, श्रीमती भावना सिंह, श्रीमती रीता मिश्रा ने भी कांग्रेस के नेता की अमर्यादित टिप्पणी कर क्षोभ व्यक्त किया।

Leave a Reply