• Wed. Jul 24th, 2024

प्रदेश में “जल-गंगा संवर्धन अभियान” में 212 नदियों में चल रहे कार्य – मुख्यमंत्री डॉ. यादव

प्रदेश में “जल-गंगा संवर्धन अभियान” में 212 नदियों में चल रहे कार्य – मुख्यमंत्री डॉ. यादव
DrMohanyadav,mpcm,jalgangasamvardhanabhiyaanअभियान में 3676 करोड़ की लागत से हो रहे जल संवर्धन के कार्य
लक्ष्मणबाग मनुष्य के चारों आश्रमों की पूर्णता का स्थान है
मुख्यमंत्री ने रीवा में गौ-पूजन एवं जल स्त्रोतों में किया श्रमदान
हर विधानसभा क्षेत्र में निराश्रित गौ-वंश के लिए बनाएंगे गौशालाएं
धार्मिक स्थलों को जोड़ने के लिए शीघ्र ही शुरू होगी हेलीकाप्टर सेवा
मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने किया 70.91 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने रीवा में लक्ष्मणबाग परिसर में आयोजित जनसंवाद सभा में कहा कि जल संरक्षण का कार्य सतत रूप से चलेगा। पूरे प्रदेश में “जल-गंगा संवर्धन अभियान” के तहत प्राचीन जल स्त्रोतों की साफ-सफाई और जीर्णोद्धार किया जा रहा है। प्रदेश में 212 नदियों में साफ-सफाई और जल संवर्धन के कार्य किए जा रहे हैं। अभियान के तहत 3676 करोड़ रुपए के जल संवर्धन के कार्य प्रदेश भर में किए जा रहे हैं। इनमें अब तक 18 लाख से अधिक लोगों ने श्रमदान करके अपनी भागीदारी निभाई है। हम गौ-वंश को निराश्रित नहीं रहने देंगे। गौ-शाला की गायों के लिए आहार की राशि 20 रुपए से बढ़ाकर 40 रुपए कर दी गई है। प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में उपयुक्त स्थान पर बड़ी गौ-शालाओं का निर्माण किया जाएगा जिनमें एक साथ हजारों गौवंश को आश्रय मिलेगा।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने रीवा पहुंचकर लक्ष्मणबाग मंदिर परिसर में सबसे पहले गौ-माता की पूजा की एवं गायों को भोजन कराया। मुख्यमंत्री ने “जल-गंगा संवर्धन अभियान” में बिछिया नदी में घाट की सफाई तथा प्राचीन बावड़ी में साफ-सफाई की तथा पारिजात का पौधारोपण। मुख्यमंत्री ने लक्ष्मणबाग मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेश के विकास और प्रदेशवासियों के कल्याण की कामना की। मंदिर परिसर में आयोजित जन-संवाद में मुख्यमंत्री ने कहा कि विन्ध्य ऐसी पवित्र भूमि है जहाँ भगवान श्रीराम ने अपने वनवास के 11 वर्ष बिताए। लक्ष्मणबाग मंदिर परिसर बहुत पवित्र है। यहाँ देव स्थान के साथ-साथ पाठशाला, गौ-शाला, जलाशय, नदी और हरे-भरे वृक्ष हैं। इस परिसर में मानव के चारों आश्रमों को पूर्णता मिलती है। यहाँ की प्राचीन बावड़ी बहुत सुंदर हो गई है। इसे जल-गंगा संवर्धन अभियान में नया जीवन मिला है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश का तेजी से विकास हो रहा है। प्रधानमंत्री की विशेष पहल पर आयुष्मान कार्डधारी गरीबों के लिए एयर एंबुलेंस की नि:शुल्क सुविधा शुरू की गई है। इसमें शामिल विमान तथा हेलीकाप्टर में जीवन रक्षक उपकरणों के साथ डॉक्टर तैनात रहेंगे। चित्रकूट, उज्जैन, ओंकारेश्वर तथा अन्य प्रमुख धार्मिक स्थलों को हेलीकाप्टर सेवा के माध्यम से जोड़ा जाएगा। प्रारंभ में उज्जैन से ओंकारेश्वर, इंदौर तथा भोपाल जाने की सुविधा होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि रीवा तेजी से विकास कर रहा है। विन्ध्य क्षेत्र में खनिजों पर आधारित उद्योग स्थापित करके रोजगार के अवसरों का सृजन करेंगे। रीवा और सिंगरौली को आज एयर टैक्सी सुविधा की सौगात मिली है। शीघ्र ही रीवा एयरपोर्ट का लोकार्पण होगा और बड़े विमानों से आवागमन की सुविधा मिलेगी।

समारोह में उप-मुख्यमंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि आज मुख्यमंत्री जी जल संवर्धन कार्यों के लिए लक्ष्मणबाग मंदिर परिसर में पधारे हैं। विन्ध्य में चारों धाम की यात्रा को पूर्ण तभी माना जाता है जब लक्ष्मणबाग मंदिरों का दर्शन उसमें शामिल हो। इस परिसर में जल-संरक्षण के कार्यों के साथ गत 10 वर्षों से 700 से अधिक गायों की निरंतर सेवा की जा रही है। बसामन मामा गौ-अभ्यारण्य में भी हजारों गौ-वंश को संरक्षण दिया जा रहा है। गौ-माता में सभी देवताओं का वास माना जाता है। गोबर और गौमूत्र के बिना कोई पूजा पूरी नहीं होती है। गौ-माता पवित्रा की पराकाष्ठा है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि बिछिया नदी शीघ्र ही साफ-सफाई अभियान चलाया जाएगा। इसमें मिलने वाले नालों के पानी को सीवर ट्रीटमेंट प्लांट से उपचारित करने के बाद ही नदी में छोड़ा जाएगा। रीवा नगर निगम क्षेत्र में दो लाख पौधे रोपित करके हम इसे हरा-भरा बनाएंगे। रीवा में रतहरा तालाब, कुबेर तालाब, झलबदरी तालाब, रानी तालाब, चिरहुला तालाब का जीर्णोद्धार करके सुंदर और आकर्षक बनाया गया है।

समारोह में सांसद श्री जनार्दन मिश्र ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने जल गंगा संवर्धन अभियान चलाकर आमजनता में जल संरक्षण की अलख जगाई है। मुख्यमंत्री ने रीवा की सिंचाई परियोजनाओं को 4 हजार करोड़ रुपए की राशि प्रदान की है। इससे जिले में लगभग 9 लाख एकड़ में सिंचाई की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। आज एयर टैक्सी सेवा शुरू कर मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने विन्ध्य को बड़ी सौगात दी है। रीवा में जल-गंगा संवर्धन अभियान के तहत 980 कार्य किए जा रहे हैं। अब तक 533 जल संवर्धन के नए कार्य स्वीकृत हुए हैं। जिले के 1030 खेत तालाबों, 157 नदी-नालों के जीर्णोद्धार का कार्य किया जा रहा है। विभिन्न भवनों में 352 रेन हार्वेस्टर प्रणाली बनाई जा रही है। मुख्यमंत्री डॉ. यादव के नेतृत्व में रीवा हर क्षेत्र में तेजी से विकास करेगा।

समारोह में मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने 70 करोड़ 91 लाख रुपए के कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने कन्यापूजन करके बेटियों का सम्मान किया। मुख्यमंत्री ने जल संरक्षण में श्रेष्ठ कार्य करने वाले जल-योद्धाओं को सम्मानित किया। समारोह में विधायक देवतालाब श्री गिरीश गौतम, विधायक गुढ़ श्री नागेन्द्र सिंह, विधायक त्योंथर श्री सिद्धार्थ तिवारी, विधायक सिरमौर श्री दिव्यराज सिंह, विधायक मनगवां श्री नरेन्द्र प्रजापति, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती नीता कोल, रीवा नगर निगम अध्यक्ष श्री व्यंकटेश पाण्डेय पूर्व विधायक श्री श्यामलाल द्विवेदी, पूर्व विधायक श्री पंचूलाल प्रजापति, पूर्व मंत्री श्री पुष्पराज सिंह, कमिश्नर गोपाल चन्द्र डाड, आईजी एमएस सिकरवार, डीआईजी साकेत प्रकाश पाण्डेय, प्रभारी कलेक्टर डॉ सौरभ सोनवणे, आयुक्त नगर निगम श्रीमती संस्कृति जैन, अन्य जनप्रतिनिधिगण, पत्रकारगण तथा बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित रहे।
=================================================
प्रदेश में “जल-गंगा संवर्धन अभियान” में 212 नदियों में चल रहे कार्य – मुख्यमंत्री डॉ. यादव
DrMohanyadav,mpcm,jalgangasamvardhanabhiyaan

aum

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *