• Tue. Jul 23rd, 2024

जनता के आवेदनों पर कार्यवाही में देर करने वाले हुए दंडित
#madhyapradeshnewsdiary,#shivrajsinghchouhan,#mpcm,#mpnews,#madhyapradeshnews,#todayindia,#todayindia24,#todayindialive,smartschool,smartclass,smarteducationमुख्यमंत्री श्री चौहान ने समाधान ऑनलाइन में सुलझाए पुराने प्रकरण

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मुख्यमंत्री निवास स्थित समत्व भवन से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा समाधान ऑनलाइन में हिस्सा लिया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विभिन्न जिलों के आवेदकों की लंबित समस्याओं का ऑनलाइन समाधान करवाया। मुख्यमंत्री ने श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले विभागों, जिलों और सीएम हेल्पलाइन में दर्ज शिकायतों का शत-प्रतिशत निराकरण करने वाले अधिकारियों को बधाई दी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विभिन्न प्रकरणों में विलंब के दोषी एक विकासखंड चिकित्सा अधिकारी की वेतनवृद्धि रोकने, एक पटवारी के निलंबन, एक प्रकरण में विभागीय जाँच, दो तहसीलदार की एक-एक वेतनवृद्धि रोकने और एक प्राचार्य को कारण बताओ नोटिस देने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सीधी जिले की आवेदिका नीतू पटेल द्वारा मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना में सहायता राशि प्राप्त न होने की शिकायत पर आवेदिका को 51 हजार रूपए की राशि का भुगतान करवाया है। जनपद कार्यालय सीधी को भविष्य में ऐसे प्रकरणों में तत्काल सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए गए। इसी तरह के एक अन्य प्रकरण में उमरिया जिले के श्री पुरूषोत्तम सिंह के आवेदन पर भी आवश्यक कार्यवाही करते हुए सहायता राशि का भुगतान करवाया गया। सिंगरौली जिले के आवेदक श्री बृजेश की शिकायत पर भी समाधान की कार्यवाही की गई। इस प्रकरण में सीएम हेल्पलाइन में दर्ज प्रकरण का निराकरण करने वाले अधिकारी द्वारा मोबाइल नंबर परिवर्तित कर दिए जाने से विलंब हुआ था। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि आवेदनों के निराकरण के लिए दायित्व निभा रहे अधिकारियों द्वारा मोबाइल नंबर बदलने की सुविधा का दुरूपयोग न किया जाए।

समाधान ऑनलाइन में उमरिया जिले के श्री नवीन नथिक द्वारा पत्नी बबीता को प्रसूति सहायता राशि के भुगतान में विलंब की शिकायत पर राशि का भुगतान करवाया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस प्रकरण में विकासखंड चिकित्सा अधिकारी की एक वेतनवृद्धि रोकने के निर्देश दिए। दोषी सिद्ध ए.एन.एम. को पद से पृथक करने और सुपरवाईजर को निलंबित करने की कार्यवाही भी पहले की जा चुकी है। रीवा जिले के श्री रोहित पांडे द्वारा ग्राम पैपखरा में नल-जल योजना से पानी न मिलने की शिकायत पर कार्यवाही करते हुए सुचारू जल प्रदाय करवाया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नल-जल योजनाओं से संबंधित तकनीकी खराबियों को समय पर सुधारने के निर्देश दिए। उन्होंने जनता की सुविधा से जुड़े ऐसे कार्यों में लापरवाही के लिए दोषी अधिकारी-कर्मचारी को दंडित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने मुख्य अभियंता स्तर के अधिकारी से तीन दिन में जाँच करवा कर अवगत कराने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उज्जैन जिले के श्री श्यामलाल प्रजापत के जमीन का विवरण ऑनलाइन फीड करवाने के आवेदन पर कार्यवाही न होने को भी गंभीरता से लिया। उन्होंने दोषी सिद्ध 2 तहसीलदारों की एक-एक वेतनवृद्धि रोकने एवं एक पटवारी को निलंबित करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जबलपुर के श्री मेघराज गोंड के वन्य-प्राणी द्वारा हमले में घायल होने पर मुआवजा राशि न मिलने का आवेदन दिया था। इस प्रकरण में आवेदक को 50 हजार रूपए की मुआवजा राशि का भुगतान तत्काल करवाया गया। छिंदवाड़ा जिले के दो प्रकरणों में भी मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आवेदकों की समस्या का समाधान करवाया। श्री रमेश मर्सकोले द्वारा छात्रवृत्ति प्राप्त न होने की ओर ध्यान आकृष्ट किया गया था। समाधान ऑनलाइन में प्रकरण आने के बाद आवेदक को 34 हजार 818 रूपए की छात्रवृत्ति का भुगतान कर दिया गया है। विलंब के दोषी प्राचार्य को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। छिंदवाड़ा जिले की ही सुश्री रागिनी सोनी के आवेदन में अंकसूची प्रदान करने के निर्देश दिए गए। इस प्रकरण में आवेदन को निराकरण के बिना फोर्स क्लोज किए जाने के लिए निजी शिक्षण संस्था के पदाधिकारियों को नोटिस दिया गया है।

सामाजिक न्याय विभाग निराकरण में अव्वल

समाधान ऑनलाइन में सीएम हेल्पलाइन में दर्ज प्रकरणों के निराकरण में इस माह 88.52 अंक प्राप्त कर सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग अव्वल रहा है। रेटिंग में जो अन्य विभाग ‘ए’ श्रेणी में हैं उनमें ऊर्जा विभाग 86.91 अंक के साथ दूसरे, परिवहन विभाग 85.75 अंक के साथ तीसरे, गृह विभाग 85.74 अंक के साथ चौथे स्थान पर और पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग 85.3 अंक के साथ पाँचवें स्थान पर रहा है। मुख्यमंत्री ने इन विभागों को बधाई देते हुए अन्य विभागों द्वारा भी जनता की शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही किए जाने और आवेदकों की संतुष्टि के प्रतिशत को बढ़ाने के निर्देश दिए।

जिलों में सबसे आगे सीहोर

शिकायतों के निराकरण में उच्च प्रदर्शन वाले जिलों में सीहोर, जबलपुर, छिंदवाड़ा, छतरपुर, सिवनी, बुरहानपुर, अलीराजपुर, रतलाम, शाजापुर और खरगोन शामिल हैं। सीहोर जिला 83.23 अंकों के साथ प्रथम स्थान पर है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इन जिलों के कलेक्टर्स को उत्कृष्ट कार्य के लिए बधाई दी।

चार अफसरों को भी मिली बधाई

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बैतूल जिले के सहायक संचालक पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण श्री नरेन्द्र गौतम, दतिया के ऊर्जा विभाग के कनिष्ठ यंत्री श्री राहुल रंजन, रायसेन के खाद्य नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण विभाग के कनष्ठि आपूर्ति अधिकारी श्री संदीप भार्गव और बुरहानपुर के नगरीय विकास एवं आवास विभाग के उप यंत्री श्री अशोक पाटिल को आमजन की संतुष्टि का प्रतिशत शत-प्रतिशत बनाए रखने की उपलब्धि के लिए बधाई दी।

समाधान ऑनलाइन में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री मनीष रस्तोगी और राज्य लोक सेवा अभिकरण के कार्यपालन संचालक श्री अभिजीत अग्रवाल उपस्थित थे।
====================================
जनता के आवेदनों पर कार्यवाही में देर करने वाले हुए दंडित
#madhyapradeshnewsdiary,#shivrajsinghchouhan,#mpcm,#mpnews,#madhyapradeshnews,#todayindia,#todayindia24,#todayindialive,smartschool,smartclass,smarteducation

aum

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *