• Thu. Feb 9th, 2023

गौरव दिवस सरकारी नहीं, जन-जन का आयोजन : मुख्यमंत्री चौहान
#madhyapradeshnewsdiary,#shivrajsinghchouhan,#mpcm,#mpnews,#madhyapradeshnews,#todayindia,#todayindia24,#todayindialiveअपने शहर के विकास और प्रगति में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दें
अदभुत थे गौर बाबा, सागर को ज्ञान का सागर दिया
डॉ. हरिसिंह गौर की जीवनी को पाठयक्रम में शामिल किया जायेगा
आगामी एक वर्ष में सागर में होंगे 4770 करोड़ रूपये से अधिक के कार्य
सागर की विभूतियों को सागर रत्न से किया सम्मानित
120 करोड़ 50 लाख रूपये के विकास कार्यों का हुआ लोकार्पण
पदमश्री श्री रामसहाय पाण्डे, गायक श्री उदित नारायण एवं अन्य कलाकारों ने दी प्रस्तुतियाँ
गौरव दिवस पर हुई मनमोहक आतिशबाजी
मुख्यमंत्री श्री चौहान सागर गौरव दिवस समारोह में हुए शामिल

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गौरव दिवस सरकारी नहीं, जन-जन का आयोजन है। किसी भी शहर, गाँव अथवा क्षेत्र का विकास केवल सरकार नहीं कर सकती, जब तक उसके साथ समाज का पूरा सहयोग न हो। अपने शहर, गाँव, क्षेत्र के विकास में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दें। साथ ही इस पावन दिवस पर पाँच संकल्प लें – अपने जन्म-दिन पर एक पौधा जरूर लगायेंगे, आँगनवाड़ियों में सहयोग देंगे, बेटी के जन्म पर खुशियाँ मनायेंगे, पानी की प्रत्येक बूँद बचायेंगे और शहर को नशामुक्त बनायेंगे।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान आज सागर में सागर गौरव दिवस समारोह में शामिल हुए। डॉ. हरिसिंह गौर की 153वीं जयंती को सागर गौरव दिवस के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सागर की अनेक विभूतियों को “सागर रत्न” से सम्मानित किया। उन्होंने रिमोट का बटन दबा कर 120 करोड़ 50 लाख रूपये की लागत के विभिन्न विकास कार्यों का लोर्कापण भी किया। कार्यक्रम स्थल पर मनमोहक आतिशबाजी की गई। पदमश्री श्री रामसहाय पाण्डे, गायक श्री उदित नारायण एवं अन्य कलाकारों ने कार्यक्रम में आकर्षक प्रस्तुतियाँ दीं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सागर के विकास में सर डॉ. हरिसिंह गौर के सहयोग को भुलाया नहीं जा सकता। अद्भुत थे गौर बाबा, उन्होंने सागर को ज्ञान का सागर दिया। वे संविधान निर्माण सभा के सदस्य और प्रसिद्ध कानूनविद थे। उन्होंने अपना सारा धन सागर विश्वविद्यालय बनाने के लिये खर्च कर दिया। इस विश्वविद्यालय में आचार्य रजनीश और सुदर्शन जी जैसी अनेक हस्तियाँ पढ़ी हैं। मेरा सागर से गहरा रिश्ता है। मुझे भी कुछ समय सागर विश्वविद्यालय में दर्शन शास्त्र की पढ़ाई करने का अवसर प्राप्त हुआ। डॉ. गौर के त्याग को विद्यार्थी समझ सकें इसके लिये पाठय-पुस्तकों में उनकी जीवनी को शामिल किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आगामी एक वर्ष में सागर में 4770 करोड़ रूपये से अधिक के कार्य कराये जायेंगे। स्मार्ट सिटी योजना में सागर का इंदौर एवं भोपाल नगरों की तरह ही महानगर के रूप में विकास किया जा रहा है। सागर में मेडिकल कॉलेज की स्थापना की जा चुकी है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में शिक्षा के क्षेत्र में सामाजिक क्रांति हो रही है। प्रदेश में इंजीनियिंरग एवं मेडिकल की पढ़ाई हिन्दी में किये जाने का ऐतिहासिक कार्य किया जा रहा है। मेधावी बेटे-बेटियों की उच्च शिक्षा की पढ़ाई की फीस सरकार भर रही है। प्रदेश में बेटियों की शिक्षा पर विशेष जोर दिया जा रहा है। लाड़ली लक्ष्मी योजना-2 शुरू की गई है। मध्यप्रदेश पहला राज्य है जहाँ बेटियों के साथ गलत कार्य करने वालों को फाँसी की सजा दी जाती है। माफियाओं और अपराधियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जा रही है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार गरीबों को तत्काल वित्तीय सहायता देने के लिये माइक्रो फायनेंस योजना प्रारंभ करने जा रही है, जिसमें 5 हजार रूपये की तुरंत सहायता दी जायेगी। इस राशि को हितग्राही बिना ब्याज के अपनी सुविधानुसार वापस कर सकेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सागर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा बढ़ाने के लिये राजघाट बांध की ऊँचाई दो मीटर बढ़ाई जायेगी। इस पर लगभग 200 करोड़ रूपये अतिरिक्त व्यय आयेगा, जिसका प्रावधान अगले वित्त वर्ष में कर दिया जायेगा। तीर्थ-दर्शन योजना में अयोध्या के लिये ट्रेन भी चलाई जायेगी।

केन्द्रीय जल शक्ति राज्य मंत्री श्री प्रहलाद पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने हर गाँव, हर शहर का गौरव दिवस मनाने की जो परिकल्पना दी है, वह अत्यंत सराहनीय है। इससे क्षेत्रों का समग्र विकास तो होगा ही, साथ ही हर व्यक्ति क्षेत्र के प्राचीन गौरव को जान सकेगा। श्री पटेल ने कहा कि डॉ. हरिसिंह गौर ने सागर के विकास में अद्वितीय योगदान दिया है। हम उनके बताये मार्ग पर चलें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पदमश्री श्री रामसहाय पाण्डे, पदमश्री डॉ. कपिल तिवारी, प्रसिद्ध सिने अभिनेता श्री मुकेश तिवारी, सेवानिवृत्त आईआरएस श्री अशोक मिश्रा, पूर्व यूजीसी चेयरमेन प्रो. डी.पी. सिंह, सेवानिवृत्त आईएएस श्री बी.आर. नायडू, प्रो. जी.एस. वाजपेई, प्रो. गौरीशंकर पाराशर, पत्रकार श्री शिवकुमार विवेक, श्री राजेश सिरोठिया, श्री शरद द्विवेदी और श्री अमित जैन, श्री विष्णु आर्य, एडवोकेट श्री चतुर्भुज सिंह राजपूत, श्री कैलाश सिंघई और श्री विरदी चंद जैन को सागर रत्न से सम्मानित किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने डॉ. हरिसिंह गौर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। समारोह को सांसद श्री राजबहादुर सिंह और विधायक श्री शैलेन्द्र जैन ने भी संबोधित किया। लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविन्द सिंह राजपूत, जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में नगरवासी उपस्थित थे। डॉ. हरिसिंह गौर के जीवन वृत्त पर केन्द्रित लघु फिल्म का प्रदर्शन भी किया गया।

मकरोनिया आरओबी का लोकार्पण

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सागर में 36 करोड़ 26 लाख रूपये की लागत से निर्मित मकरोनिया देवल रेलवे ओवर ब्रिज का लोकार्पण भी किया। इससे क्षेत्रीय रहवासियों को आवागमन में सुविधा होगी। साथ ही समय और अर्थ की बचत भी होगी। मुख्यमंत्री ने सागर के गौरव दिवस पर सागरवासियों को यह बड़ी सौगात दी।
==================================================
गौरव दिवस सरकारी नहीं, जन-जन का आयोजन : मुख्यमंत्री चौहान
#madhyapradeshnewsdiary,#shivrajsinghchouhan,#mpcm,#mpnews,#madhyapradeshnews,#todayindia,#todayindia24,#todayindialive

 

aum

Leave a Reply

Your email address will not be published.