• Wed. Jul 24th, 2024

madhyapradeshnewsdiary 24 august 2021
madhyapradeshnewsdiary,madhyapradeshnews,mpnews,shivrajsinghchouhan,mpcm,madhyapradesh chiefminister,chiefminister of madhyapradesh,mpnews,madhyapradesh news,MPVaccinationMahaAbhiyan,todayindia,24,today india
मुख्यमंत्री चौहान के आह्वान पर टीकाकरण महाअभियान-2 में जुटे समाज प्रमुख
नागरिकों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करने जारी किए वीडियो संदेश
कोरोना संक्रमण को समाप्त करने और प्रदेशवासियों को संक्रमण से सुरक्षा देने के लिए मध्यप्रदेश में 25 और 26 अगस्त को टीकाकरण महाअभियान-2 चलाया जाएगा। महाअभियान की तैयारियों के लिये मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के आव्हान पर विभिन्न समाज के प्रमुखों ने भी भागीदारी सुनिश्चित करते हुए संचार के विभिन्न माध्यमों से वैक्सीनेशन की अपील की है।

महाअभियान की तैयारियाँ एवं व्यवस्था पर मुख्यमंत्री श्री चौहान की सतत नजर

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने टीकाकरण महाअभियान-2 की तैयारियों और व्यवस्था की कमान स्वयं अपने हाथ में ले रखी है। पिछले सप्ताह से मुख्यमंत्री श्री चौहान न केवल महाअभियान की तैयारियों को देख रहे हैं, बल्कि प्रदेश में जन-जागरूकता के लिये विभिन्न वर्गों और 52 जिलों के प्रशासनिक एवं स्वास्थ्य अमले से भी लगातार सम्पर्क में हैं। टीकाकरण महाअभियान के लिये वैक्सीन की डोज कम न पड़े, इसके लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सोमवार को नई दिल्ली जाकर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री से मिलकर वैक्सीन डोज की अतिरिक्त व्यवस्था भी सुनिश्चित की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान का सभी वर्गों से संवाद

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिला, विकासखण्ड, ग्राम पंचायत, वार्ड और ग्राम स्तर के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप्स के सदस्यों से भी वर्चुअल संवाद कर महाअभियान में अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीनेट कराने का आव्हान किया है। उन्होंने कहा कि सभी के मिले-जुले प्रयासों से हमें प्रदेश के प्रत्येक नागरिक को कोरोना से सुरक्षा कवच प्रदान करना है।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के आग्रह पर विभिन्न समाजों के प्रमुख लोगों ने टीकाकरण महाअभियान-2 को सफल बनाने के लिए अपील की हैं। अध्यक्ष सिंधी पंचायत संत हिरदाराम नगर श्री साबू रीझवाणी, कैरियर काउंसलर और प्रख्यात शिक्षाविद श्रीमती कला मोहन, अध्यक्ष सिंधी सेंट्रल पंचायत, भोपाल श्री नारायण खेमचंदाणी और रंगकर्मी एवं सिने अभिनेता श्री ओमप्रकाश आसुदानी ने वीडियो अपील जारी कर समाज बंधुओं और सभी नागरिकों से पात्रता अनुसार वैक्सीन की प्रथम और द्वितीय डोज लगवाने का आग्रह किया है। सभी ने अपनी अपील में संदेश दिया है कि यदि आप अपने परिवार, शहर, जिले, प्रदेश और देश से स्नेह करते हैं तो वैक्सीन की दोनों डोज अवश्य लगवाएँ और अपने मित्रों, परिचितों को भी वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करें।

पदमश्री श्रीमती जनक पलटा

इंदौर की समाजसेवी एवं पदमश्री श्रीमती जनक पलटा ने कहा है कि हमने कोरोना की विभीषिका को देखा है। इस महामारी से आमजन को जीवन सुरक्षा प्रदान करने के लिए टीका लगवाना ही जरूरी है। अत: सभी नागरिक टीका जरूर लगवाएँ।

अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी श्री मीररंजन नेगी

अंतर्राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी श्री मीररंजन नेगी ने कहा है कि टीका लगवाये और अपने एवं दूसरों के जीवन की सुरक्षा भी करें।

कमन्ट्रेटर श्री सुशील दोषी

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में हिंदी कमेंट्री करने वाले श्री सुशील दोषी ने आमजन से अपील की है कि कोरोना से स्वयं को और समाज को बचाने के लिए वैक्सीनेशन जरूर करवाये।

ख्याति प्राप्त नृत्यांगना सुश्री रागिनी मक्खर

ख्याति प्राप्त नृत्यांगना सुश्री रागिनी मक्खर ने अपनी अपील में कहा है कि जानलेवा बीमारी से बचाव का एक मात्र उपाय वैक्सीनेशन है। सभी नागरिकों का यह प्रयास होना चाहिए कि वैक्सीन की दोनों डोज लगवा कर अपनी नैतिक जिम्मेदारी का निर्वहन करें।

पं. अशोक भट्ट महाराज

इंदौर के खजराना गणेश मंदिर के प्रमुख पुजारी पंडित अशोक भट्ट महाराज ने कहा है कि मानव जीवन अनमोल है। यह जीवन ईश्वर द्वारा प्रदत्त है। इस जीवन की सुरक्षा करना हमारा फर्ज है। अतएव अपना फर्ज अदा करते हुए सभी लोग टीका जरूर लगवाएँ।

श्री बिशप चाको

क्रिश्चियन समुदाय इंदौर के श्री बिशप चाको ने कहा है कि वैक्सीन के दोनों डोज कोरोना संक्रमण को परास्त कर मानव जीवन को बचाने में अमृत का काम करेंगे। पूरे विश्वास और सजगता के साथ वैक्सीन को स्वीकारना आज की जरूरत है।

शहर काजी इंदौर डॉ. इशरत अली

शहर काजी इंदौर डॉ. इशरत अली ने अपनी अपील में कहा है कि टीकाकरण कोरोना महामारी को समाप्त करने के लिए बेहद जरूरी है। उन्होंने समाज के प्रत्येक व्यक्ति से टीका लगवाने का आव्हान किया है।

गुरुसिंह सभा इंदौर के श्री रिंकू भाटिया

गुरुसिंह सभा इंदौर के श्री रिंकू भाटिया ने अपनी अपील में कहा कि कोरोना ने भारत के साथ पूरे विश्व को प्रभावित किया है। केन्द्र और राज्य सरकार ने अथक प्रयास कर कोरोना संक्रमण को नियंत्रित किया है। अब बारी है हम प्रदेशवासियों की, हम सबको मिलकर प्रदेश सरकार द्वारा चलाए जा रहे टीकाकरण महाअभियान-2 में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य प्राप्त करना होगा।

वयोवृद्ध स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. विजयसेन यशलहा

इंदौर की वयोवृद्ध स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. विजयसेन यशलहा ने विशेषकर गर्भवती महिलाओं तथा धात्री माताओं से आग्रह किया है कि वे टीका जरूर लगवाएँ। टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। घबराए नहीं टीकाकरण केंद्रों पर पहुँचे और टीका जरूर लगवाएँ। टीका लगवा कर वह स्वयं के साथ ही बच्चे के रूप में आने वाले भविष्य को भी सुरक्षित कर सकती हैं।

================================================================

भोपाल नगर निगम क्षेत्र से बाहर 25 कि.मी. तक चलेंगी नगरीय बसें : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
अहमदपुर पंप गृह से 3 लाख लोगों को होगी पेयजल की आपूर्ति
मुख्यमंत्री ने भोपालवासियों से की टीकाकरण महाअभियान-2 में भाग लेने की अपील
50 नवीन मिडी बसों और अहमदपुर जल पंप गृह का वर्चुअल लोकार्पण
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भोपाल नगर निगम क्षेत्र से बाहर 25 किलोमीटर की परिधि तक के क्षेत्रों के रहवासियों, श्रमिकों, छात्र-छात्राओं के आवागमन के लिए बीसीएलएल बसों को नगरीय बस संचालन की श्रेणी में अधिसूचित किया जाएगा। इससे कान्हा सैया, हिनोतिया बंगरसिया, रातीबड़, बिलकिसगंज, बागरोदा, सूखी सेवनिया, फंदा और परवलिया जैसे बाहरी क्षेत्रों के रहवासी रियायती दरों पर नगरीय बस सेवा से लाभान्वित होंगे। छात्र-छात्राओं, मजदूरों और ग्रामीण भाई-बहनों को आने-जाने की किफायती और सुरक्षित सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर और उज्जैन में भी ऐसी ही व्यवस्था की जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हरी झंडी दिखाकर बसों को रवाना किया

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपाल के नगरीय मार्गों पर 50 नवीन मिडी बसों के संचालन का हरि झंडी दिखाकर वर्चअल शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने साढ़े 6 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित अहमदपुर शुद्ध जल पंप गृह का वर्चुअल लोकार्पण भी किया। निवास पर आयोजित कार्यक्रम में चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, प्रमुख सचिव नगरीय विकास श्री मनीष सिंह तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

भोपाल के लिए नर्मदा जल की बेहतर उपलब्धता सुनिश्चित करना हमारी प्राथमिकता

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भोपाल में हर बहन-भाई को शुद्ध पीने का पानी मिले, यह हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। आज लोकार्पित अहमदपुर के लगभग 45 एमएलडी क्षमता के पंप गृह से 24 उच्च स्तरीय टंकियों, निजी कॉलोनियों की उच्च स्तरीय टंकियों और पंप वेलों को भरा जाएगा। पंप के कमांड क्षेत्र में लगभग 300 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाई गई हैं। इससे 3 लाख की आबादी के पानी संकट को समाप्त किया जा सकेगा। भोपाल को नर्मदा, कोलार, बड़ा तालाब और केरवा से जल प्रदाय किया जाता है। हमारा मुख्य उद्देश्य नर्मदा जी के पानी को बेहतर ढंग से भोपाल में पहुँचाना है और इसके लिए आवश्यक व्यवस्था लगातार जारी है।

बसों में बहन-बेटियों की सुरक्षा के लिए पैनिक बटन की व्यवस्था

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भोपाल में परिवहन सुविधाएँ देने के लिए बेहतर बसों की व्यवस्था की गई है। आम नागरिकों के लिए बसों का परिवहन बहुत आवश्यक है। सुरक्षित और आरामदायक सफर के लिए आज आरंभ हुई 50 बसों में कई तरह की व्यवस्था की गई हैं। जीपीएस सिस्टम, पैनिक बटन, सीसीटीवी कैमरा, ऑनलाइन मॉनीटिरिंग जैसी व्यवस्थाएँ हैं। इससे बहनों और बेटियों की सुरक्षा के लिए पैनिक बटन की व्यवस्था विशेष है। प्रदेश में 1100 नई बसों का संचालन होगा। भोपाल को 300 बसों की सौगात और शेष बसें जबलपुर, इंदौर, ग्वालियर को उपलब्ध कराई जायेंगी।

भोपाल में रेडीमेड गार्मेंट इंडस्ट्री से मिलेगा लगभग 4 हजार लोगों को रोजगार

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमारा भोपाल अद्भुत शहर है। ग्रीन भोपाल, क्लीन भोपाल, ताल-तलैयों का भोपाल, ऐतिहासिक और आध्यात्मिक नगरी है। भोपाल में लोगों को बुनियादी सुविधाएँ मिलती रहें, इसके लिए राज्य सरकार विशेष रूप से सजग है। भोपाल को हाई टेक सिटी और सुन्दर बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जायेगी। रोजगार युक्त भोपाल के लिए निवेश तेजी से जारी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि भोपाल में रेडीमेड गार्मेंट इंडस्ट्री लग रही है। इसमें लगभग 4 हजार लोगों को रोजगार मिल सकेगा। साथ ही भोपाल में ग्लोबल स्किल पार्क भी बन रहा है, जहाँ रोजगारोन्मुखी व्यवसायों का प्रशिक्षण उपलब्ध होगा।

झुग्गी मुक्त होगा भोपाल

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भोपाल को झुग्गी मुक्त बनाने के लिए झुग्गीवासियों को पक्के मकान देने के प्रयास भी जारी हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए व्यापक स्तर पर व्यवस्थाएँ की जा रही हैं। हमीदिया अस्पताल का विस्तार कर आवश्यक व्यवस्था की गई है।

टीकाकरण और कोरोना अनुकूल व्यवहार जरूरी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि 25 और 26 अगस्त को वैक्सीनेशन का महाअभियान-2 आरंभ हो रहा है। इसमें 25 अगस्त को वैक्सीन की दोनों डोज और 26 अगस्त को वैक्सीन की दूसरी डोज लगाई जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कई लोग पहला डोज लगवाकर भूल गये, उन्होंने दूसरा डोज नहीं लगवाया। दूसरा डोज नहीं लगवाएंगे तो पहला डोज बेकार हो जायेगा। कोरोना पर नियंत्रण, टीकाकरण और कोरोना अनुकूल व्यवहार से ही संभव है। कोरोना पर नियंत्रण की स्थिति में ही जीवन सामान्य हो सकेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपालवासियों से 25 और 26 अगस्त के टीकाकरण महाअभियान में भाग लेने की अपील की।

कार्यक्रम को नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह, सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर, पूर्व प्रोटेम स्पीकर एवं विधायक श्री रामेश्वर शर्मा तथा विधायक श्रीमती कृष्णा गौर ने भी संबोधित किया।

================================================================

हर वर्ग की भागीदारी से बिछेगा प्रदेश में उद्योगों का जाल : मुख्यमंत्री चौहान
जो सबसे पीछे और नीचे हैं उनका उत्थान हमारी प्राथमिकता
नए उद्यमियों को अवसर देने उद्योग नीति में होंगे व्यवहारिक बदलाव
डिक्की की नेशनल काउंसिल मीट को मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया संबोधित
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के लिए राज्य सरकार प्रदेश में उद्योगों का जाल बिछाने के लिए प्रतिबद्ध है। हमारा प्रयास है कि उद्यमशीलता की इस गतिविधि में समाज के हर वर्ग की बराबर की भागीदारी हो। संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर ने देश को संविधान देकर शिक्षित बनो, संगठित बनो और संघर्ष करो का मंत्र दिया। राज्य सरकार जो सबसे पीछे और नीचे हैं उनका संवैधानिक अधिकार, सुरक्षा और उन्हें प्रगति के सभी अवसर उपलब्ध कराने के लिए कृत-संकल्पित है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान दलित इंडियन चेम्बर ऑफ कामर्स एण्ड इंडस्ट्रीज (डिक्की) की नेशनल काउंसिल मीट को संबोधित कर रहे थे। होटल पलाश में आयोजित मीट में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री श्री ओमप्रकाश सकलेचा, खाद्य, नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह, डिक्की के संस्थापक पद्मश्री डॉ. मिलिंद काम्बले, राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री रवि कुमार नारा, ट्रायफेड के प्रबंध संचालक श्री प्रवीर कृष्ण,डिक्की के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अनिल सिरवैया उपस्थित थे। कार्यक्रम में केन्द्र तथा राज्य की योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई।

उद्योग नीतियों में आवश्यक सुधार किया जा सकता है

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में असीम संभावनाएँ हैं। खनिज, वन संपदा, कृषि उत्पादन, पर्यटन के क्षेत्र में उद्यमिता की व्यापक संभावनाएँ विद्यमान हैं। युवा वर्ग को उद्यमिता के लिए प्रेरित करने नीतियों को अधिक व्यवहारिक और सहयोगी बनाने के उद्देश्य से उद्योग नीतियों में आवश्यक सुधार किया जा सकता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में ज्ञानोदय विद्यालय तथा एकलव्य विद्यालय के माध्यम से अनुसूचित जाति-जनजाति के विद्यार्थियों को गुणवत्तायुक्त शिक्षा उपलब्ध कराई जा रही है। प्रदेश में वनोपज के न्यूनतम समर्थन मूल्य की व्यवस्था की गई है। देवारण्य योजना के माध्यम से जनजातीय बहुल क्षेत्रों में वहाँ के ईको सिस्टम के अनुसार परम्परागत औषधीय और सुगंधित पौधों को ऊगाने से लेकर उनकी प्रोसेसिंग, ब्रांडिंग, मार्केटिंग और विक्रय की सम्पूर्ण वैल्यू चेन विकसित की जा रही है।

युवाओं को उद्यमी के रूप में विकसित करना आवश्यक

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश के मनोहर श्याम की पेंटिंग और डिण्डौरी की रेखा पेंदराम द्वारा कोदो-कुटकी की ब्रांडिंग कर अपने उत्पाद को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए की गई पहल की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि युवाओं को सहायता ही पर्याप्त नहीं है। उन्हें आवश्यक मार्गदर्शन और प्रशिक्षण उपलब्ध कराकर उद्यमी के रूप में विकसित करना आवश्यक है। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।

जनजातीय युवाओं को उत्पादों की प्रोसेसिंग से जोड़ा जाए

खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह ने कहा कि खनिज सम्पदा के दोहन, वन सम्पदा के संग्रहण और कृषि उत्पादन में प्रदेश की जनजातियों का योगदान है। जनजातीय युवाओं को सहयोग, प्रशिक्षण और मार्गदर्शन उपलब्ध कराकर खनिज, वन और कृषि उत्पादों की प्रोसेसिंग से जोड़ना आवश्यक है।

प्रत्येक जिले में होगी उद्यमिता पर कार्यशाला

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने कहा कि प्रदेश के प्रत्येक जिले में उद्यमिता पर कार्यशाला आयोजित की जा रही है। हमारा उद्देश्य सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग स्थापित करने के लिए युवाओं को जिला स्तर पर आवश्यक मार्गदर्शन उपलब्ध कराना है। कार्यक्रम को ट्रायफेड के प्रबंध संचालक श्री प्रवीर कृष्ण, डिक्की के संस्थापक डॉ. मिलिंद काम्बले और प्रदेश अध्यक्ष श्री अनिल सिरवैया ने भी संबोधित किया।

===============================================================

कोरोना वैक्सीनेशन के लिए घर-घर सम्पर्क करें: मुख्यमंत्री चौहान
हमें हमारी जनता की जिंदगी को सुरक्षित करना है
बेहतर प्रदर्शन के लिए जिलों को पुरस्कृत किया जाएगा
मुख्यमंत्री चौहान ने टीकाकरण महाअभियान पर क्राइसिस मैनेंजमेंट ग्रुप्स को संबोधित किया
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि 25 और 26 अगस्त को आयोजित वैक्सीनेशन महाअभियान-2 से लोगों को जोड़ने के लिए गाँव और वार्ड में घर-घर संपर्क किया जाए। जिन व्यक्तियों ने वैक्सीनेशन नहीं करवाया है उन्हें वैक्सीनेशन केंद्रों तक लाने के लिए आवश्यक प्रयास करना जरूरी है। यह जीवन बचाने का डोज है, हमें हमारी जनता की जिंदगी को सुरक्षित करना है। जिन लोगों में भ्रम है या किसी प्रकार की जिज्ञासा है, तो ऐसे व्यक्तियों को भी आवश्यक समझाइश दी जाए। मंत्री, सांसद, विधायक, क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्य, जिला, जनपद, ग्राम पंचायत के प्रतिनिधि प्रत्येक गाँव और वार्ड में सक्रिय रहें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान कोरोना वैक्सीनेशन महाअभियान-2 के लिए आयोजित बैठक को वर्चुअली संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री निवास से आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंस में लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभु राम चौधरी, चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे। सभी मंत्रीगण, सासंद, विधायक, जिला और जनपद स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्य बैठक में वर्चुअली सम्मिलित हुए।

38 प्रतिशत पात्र जनसंख्या को पहला टीका और 46 लाख लोगों को दूसरा टीका ड्यू

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि विश्व स्तर पर सभी विशेषज्ञों और डॉक्टरों का मत है कि कोरोना की तीसरी लहर से बचाव, टीकाकरण और कोरोना अनुकूल व्यवहार के पालन से ही संभव है। जन-भागीदारी मॉडल के परिणामस्वरूप प्रदेश में टीकाकरण के पहले अभियान में सरकार के साथ समाज जुड़ा और हमें बड़ी सफलता मिली। परंतु अभी भी प्रदेश की 38 प्रतिशत पात्र जनसंख्या ने पहला टीका ही नहीं लगवाया है। लगभग 46 लाख लोगों के दूसरा टीका लगवाने का समय आ गया है। यदि उन्होंने दूसरा टीका नहीं लगवाया, तो पहले टीके का प्रभाव भी निष्प्रभावी हो जायेगा।

जिनको टीका नहीं लगा उनकी सूचियाँ जिला कलेक्टर के पास हों

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार का लक्ष्य है कि सितम्बर 2021 के अंत तक प्रदेश के शत-प्रतिशत पात्र व्यक्तियों को टीके की पहली डोज लग जाए तथा दिसम्बर तक टीके की दूसरी डोज भी सभी प्रदेशवासियों को लगे। अत: 25 और 26 अगस्त को आयोजित टीकाकरण महाअभियान-2 को प्रत्येक स्तर पर पूरी गंभीरता से लिया जाए। जिला कलेक्टर प्रत्येक गाँव और वार्ड की सूचियाँ संधारित करें। जिन लोगों को टीका अब तक नहीं लगा है और जिनका दूसरा डोज लंबित है, ऐसे प्रत्येक व्यक्ति के नामों की सूची जिला प्रशासन ग्राम स्तर तक पहुँचाए।

वैक्सीनेशन वाले दिन लोगों को केन्द्र तक लेकर आयें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि टीकाकरण के लिए वातावरण बनाना, लोगों को प्रेरित करना आवश्यक है। इसके लिए सोशल मीडिया पर अभियान चलाने, घर-घर जाकर संपर्क करने तथा वैक्सीनेशन वाले दिन लोगों को घर से टीकाकरण केन्द्र तक लाने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन और क्राइसिस मैनेंजमेंट कमेटियाँ उठाएँ। जैसे वोटिंग के लिए लोगों को पोलिंग बूथ तक लाने का वातावरण रहता है, इसी प्रकार टीकाकरण केंद्र तक सभी पात्र लोगों को लाया जाए।

दिव्यांग और बुजुर्गों के लिए हो विशेष व्यवस्था

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दिव्यांग और बुजुर्ग लोगों को केंद्र तक लाने के लिए वाहनों की व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि महाअभियान में अच्छा कार्य करने वाले जिलों को पुरस्कृत किया जायेगा। जिलों को बेहतर कार्य करने और अधिक से अधिक टीकाकरण के लिए क्रमश: प्रथम, द्वितीय और तृतीय पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि टीकाकरण केंद्रों पर चाय-पानी आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। टीकाकरण केंद्र पर आब्जर्वेशन के लिए रूकने की दृष्टि से उपयुक्त व्यवस्थाएँ सुनिश्चित हो।

================================================================

सेवा कार्यों से ही जीवन की सार्थकता
मुख्यमंत्री चौहान से मिला सिख समाज प्रतिनिधि-मंडल
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान से आज मंत्रालय में सिख समाज के प्रतिनिधि-मंडल ने भेंट की। प्रतिनिधि-मंडल में नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्यमंत्री श्री बृजेंद्र सिंह यादव, विधायक श्री जजपाल सिंह जज्जी भी उपस्थित थे। प्रतिनिधि-मंडल द्वारा मुख्यमंत्री श्री चौहान को आगामी 4 से 6 अक्टूबर के मध्य ग्वालियर में आयोजित गुरुद्वारा दाता बंदी छोड़ ग्वालियर के 400 वर्षीय विश्व-स्तरीय शताब्दी समारोह कार्यक्रम का आमंत्रण दिया गया। इस अवसर पर सिख समाज द्वारा संचालित सेवा कार्यों की जानकारी भी दी गई।

प्रतिनिधि-मंडल ने ग्वालियर के टेकनपुर में गुरुद्वारे की भूमि पर शिक्षण संस्थान प्रारंभ करने के संबंध में प्रस्ताव दिया। इसके अनुसार सिख समाज शिक्षण संस्थान की स्थापना में सहयोग देगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सेवा कार्यों से ही जीवन सार्थक होता है। सिख समाज के सेवा कार्य सराहनीय है। शासन द्वारा इन प्रयासों को प्रोत्साहित किया जाएगा और पूर्ण सहयोग प्रदान किया जाएगा ।

इस अवसर पर श्री धर्म सिंह, बाबा लक्खा सिंह ग्वालियर, पंजाबी अकादमी की निदेशक नीरू सिंह ज्ञानी उपस्थित थी।

समारोह की पृष्ठभूमि

ग्वालियर के किले पर स्थित गुरुद्वारा दाता बंदी छोड़ से इतिहास के अनेक प्रसंग जुड़े हैं। छठी पातशाही गुरु हरगोविंद साहिब जी ने तत्कालीन बादशाह जहांगीर की कैद से 52 राजपूत राजाओं को स्वतंत्र करवाने का कार्य किया था। इस घटना के 400 वर्ष पूर्ण होने पर श्री अकाल तख्त साहिब अमृतसर के आदेश अनुसार बाबा सेवा सिंह ,कार सेवा खड़ूर साहिब जी गुरुद्वारा दाता बंदी छोड़ किला ग्वालियर ने समूह सिख संगत के सहयोग से विश्व स्तरीय समारोह की रुपरेखा बनाई है। इसमें विश्व के अन्य राष्ट्रों से भी गुरु नानक नाम लेवा संगत के अलावा सिख समाज के महापुरुष और अन्य समाज के संत जन भी उपस्थित होंगे। शताब्दी समारोह तीन दिवसीय होगा।

पंजाबी साहित्य अकादमी द्वारा समारोह की तैयारियाँ आरंभ

संस्कृति विभाग की पंजाबी साहित्य अकादमी की निदेशक नीरू सिंह ज्ञानी ने बताया कि अकादमी द्वारा समारोह की तैयारियाँ आरंभ कर दी गई हैं। श्री गुरु हरगोविंद साहिब जी के व्यक्तित्व और कृतित्व पर चित्र प्रदर्शनी का आयोजन किया जा रहा है। अकादमी द्वारा विशेष प्रकाशन भी किए जा रहे हैं।

=================================================================

मुख्यमंत्री चौहान से गोपालन एवं पशु संवर्धन बोर्ड के उपाध्यक्ष स्वामी अखिलेश्वरानंद ने भेंट की
मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान से आज मंत्रालय में प्रदेश गोपालन एवं पशु संवर्धन बोर्ड के उपाध्यक्ष स्वामी अखिलेश्वरानंद जी ने भेंट की। स्वामी जी ने हाल ही में मध्यप्रदेश गोपालन बोर्ड में पदभार ग्रहण किया है। वे बोर्ड की कार्य परिषद के अध्यक्ष भी हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री चौहान से गौ संवर्धन एवं संरक्षण से जुड़ी विभिन्न गतिविधियों पर चर्चा कर बताया कि बोर्ड द्वारा योजनाएँ तैयार कर लागू करने की तैयारी की जा रही है।

===============================================================

मुख्यमंत्री चौहान ने किया अमर शहीद राजगुरु को नमन
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अमर शहीद राजगुरु की जयंती पर उन्हें नमन किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास स्थित सभागार में शहीद राजगुरु के चित्र पर माल्यार्पण किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ट्वीट कर माँ भारती की परतंत्रता की बेड़ियों को तोड़ने के लिए अपने प्राणों को हँसते-हँसते न्यौछावर कर देने वाले महान क्रांतिकारी शहीद शिवराम हरि राजगुरु जी की जयंती पर नमन किया।

श्री शिवराम हरि राजगुरु का जन्म -24 अगस्त 1908 को हुआ। वे भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के एक प्रमुख क्रान्तिकारी थे। इन्हें वीर भगत सिंह और श्री सुखदेव के साथ 23 मार्च 1931 को फाँसी पर लटका दिया गया। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास में राजगुरु की शहादत एक महत्वपूर्ण घटना है। वाराणसी में विद्याध्ययन करते हुए राजगुरु का सम्पर्क अनेक क्रान्तिकारियों से हुआ। श्री चन्द्रशेखर आजाद से वे प्रभावित राजगुरू हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन आर्मी से जुड़ गये।

===============================================================

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री अरुण जेटली की द्वितीय पुण्य-तिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित की
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भारत के पूर्व वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली की द्वितीय पुण्य-तिथि पर स्मरण किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास पर आज उनके चित्र पर माल्यर्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अपनी भावनाएँ व्यक्त करते हुए ट्वीट किया है कि “तथ्यों और तर्कों के धनी, कुशल वक्ता और मित्रता निभाने वाले व्यक्ति के रूप में श्री जेटली सदैव याद आएंगे। वे श्रेष्ठ को श्रेष्ठतम करने के बारे में मंथन करते रहते थे। उनकी आँखों में सदैव एक नया सपना रहता था। श्री जेटली के रूप में दो साल पहले देश ने एक अनमोल रत्न को खो दिया था।“

श्री जेटली का जन्म 28 दिसम्बर 1952 को दिल्ली में हुआ था। उन्होंने एक वकील से सफल राजनेता तक का सफर तय किया। वे भारत सरकार में वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्री रहे। राजनीति में आने से पहले वे सुप्रीम कोर्ट में लॉ प्रेक्टिस कर रहे थे। श्री जेटली का साथ उनके स्वास्थ्य ने नहीं दिया और 24 अगस्त 2019 को 66 वर्ष की आयु में उनका निधन हो गया।
================================================================

औद्योगिक इकाईयों को मिलेंगी जरूरी सुविधाएँ
मुख्यमंत्री चौहान से मिले अर्न इंडिया मैन्यूफेक्चरिंग के सीईओ श्री लेविटिन
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में किसी भी तरह की औद्योगिक इकाइयों की स्थापना के लिए राज्य सरकार आवश्यक सुविधाएँ देने के लिए प्रतिबद्ध है। कोविड के दौर के बाद आर्थिक और वित्तीय क्षेत्र को जिस संबल की आवश्यकता है, उसे प्रदान करने में राज्य सरकार कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में अर्न इंडिया मैन्यूफेक्चरिंग के सह-संस्थापक और सीईओ श्री शाई लेविटिन से चर्चा कर रहे थे। इस अवसर पर संस्थान की वाइस प्रेसीडेंट श्रीमती आइरिस लेविटिन और पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान को श्री लेविटिन ने बताया कि वे मध्यप्रदेश में करीब 200 करोड़ रूपए के निवेश से एलइडी लाइट्स और स्मार्ट होम प्रोडेक्ट्स की इकाई की स्थापना के लिए इच्छुक हैं। इसके लिए उन्होंने इंदौर और निकटवर्ती औद्योगिक क्षेत्रों का भ्रमण भी कर लिया है। प्रस्तावित इकाई से करीब एक हजार लोगों को प्रत्यक्ष और एक हजार लोगों को अप्रत्यक्ष रोजगार प्राप्त हो सकेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान से भेंट के अवसर पर अर्न इंडिया मैन्यूफेक्चरिंग के श्री अरशद कुरैशी, श्री शैलेश शर्मा और श्री आकाश सिंघल भी उपस्थित थे। प्रमुख सचिव उद्योग श्री संजय शुक्ला ने प्रस्तावित निवेश के संबंध में प्रचलित प्रक्रिया की जानकारी दी।

===============================================================

madhyapradeshnewsdiary,madhyapradeshnews,mpnews,shivrajsinghchouhan,mpcm,madhyapradesh chiefminister,chiefminister of madhyapradesh,mpnews,madhyapradesh news,MPVaccinationMahaAbhiyan,todayindia,24,today india

aum

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *