• Mon. Jun 17th, 2024

दमोह के स्कूल वाली घटना पर मौन क्यों हैं कमलनाथ और दिग्विजयः नरेंद्र सलूजा

दमोह के स्कूल वाली घटना पर मौन क्यों हैं कमलनाथ और दिग्विजयः नरेंद्र सलूजा
damoh,gangajamnaschool,narendrasaluja,todayindia,todayindianews,todayindia24

प्रदेश प्रवक्ता ने कहा-प्रदेश की जनता देख रही है कांग्रेस की तुष्टिकरण की राजनीति

भोपाल। प्रदेश सरकार की सक्रियता और मुखरता से दमोह के स्कूल पर कार्रवाई संभव हो सकी है। स्कूल प्रबंधन द्वारा धर्म परिवर्तन के लिए दबाव डालने के अलावा हर दिन जांच में नए तथ्य सामने आ रहे हैं। लेकिन आश्चर्य की बात है कि कर्नाटक के हिजाब प्रकरण से लेकर केरला स्टोरी तक पर जमकर बयानबाजी करने वाले कांग्रेस के कमलनाथ और दिग्विजय सिंह जैसे नेता इस पूरी घटना पर मौन हैं। इस मामले में पिछले 7 दिनों से उनका मौन नहीं टूटा है और ऐसा लगता है जैसे उनके मुंह में दही जमा हुआ है। इस घटना को लेकर उन्होंने एक ट्वीट तक नहीं किया। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता श्री नरेंद्र सलूजा ने मीडिया से चर्चा के दौरान कही।

*हाथों में बंधे कलावे काट देते थे, तिलक मिटा देते थे*
सलूजा ने कहा कि दमोह के स्कूल में छात्राओं को हिजाब पहनाने का मामला जैसे ही मध्यप्रदेश सरकार के संज्ञान में आया, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा तथा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णुदत्त शर्मा ने तत्काल इस मामले पर संज्ञान लिया। मुख्यमंत्री ने कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिये। स्कूल की जांच चल रही है और और उस जांच में रोज नए तथ्य निकलकर आ रहे हैं। किस प्रकार से स्कूली बच्चों को धर्म परिवर्तन के लिए, नमाज पढ़ने के लिए, आयते पढ़ने के लिए बाध्य किया जाता था। यहां तक कि छात्रों के हाथ में बंधे कलावे तक काट दिए जाते थे, माथे पर लगे तिलक को मिटा दिया जाता था, स्कूल में पढ़ाने वाली शिक्षिकाओं के धर्म परिवर्तन के मामले भी सामने आए हैं। स्कूल से लेकर मस्जिद तक एक गुप्त रास्ता भी जांच के दौरान पाया गया है। स्कूल प्रशासन ने अपने लोगो में भारत के नक्शे के साथ छेड़छाड़ की थी, जिसका प्रयोग स्कूल संचालक अपने सारे व्यवसायिक संस्थानों में कर रहे थे। जांच में टेरर फंडिंग के साथ-साथ विदेशी फंडिंग की भी बात सामने आ रही है।

*जनता देगी कांग्रेस की तुष्टिकरण की राजनीति का जवाब*
सलूजा ने कहा कि धर्म परिवर्तन समेत इतने सारे तथ्य सामने आने के बावजूद स्कूल संचालक के खिलाफ आज तक किसी कांग्रेसी नेता का बयान नहीं आया है। हर छोटी-बड़ी घटना पर टीका टिप्पणी करने वाले कांग्रेसी मौन हैं। प्रदेश में चाहे कोई आतंकवादी पकड़ा जाए या दमोह के स्कूल जैसे जिहादी साम्राज्य के खिलाफ कार्रवाई हो, कांग्रेस के लोग चुप हो जाते हैं। इससे यह बात एक बार फिर स्पष्ट हो जाती है कि कांग्रेस तुष्टीकरण की राजनीति करती है। इससे यह भी पता चलता है कि कांग्रेस ऐसी घटनाओं की समर्थक है। वास्तव में यही कांग्रेस का चरित्र है, जो प्रदेश की जनता खुली आंखों से देख रही है। 2023 के विधानसभा चुनाव में जनता जिहादी सोच वाली कांग्रेस को कड़ा जवाब देगी।
===========================================Courtesy========================
प्रदेश प्रवक्ता ने कहा-प्रदेश की जनता देख रही है कांग्रेस की तुष्टिकरण की राजनीति
damoh,gangajamnaschool,narendrasaluja,todayindia,todayindianews,todayindia24

aum

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *