• Thu. Feb 9th, 2023

वृक्षारोपण के लिये एक लाख वृक्षसेवकों का पंजीयन हुआ

किसान आंदोलन में आगजनी से नष्ट हुई दुकानों का मुआवजा मिलेगा
भेल दशहरा मैदान पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 2 जुलाई के वृक्षारोपण, कानून-व्यवस्था और हमीदिया अस्पताल संबंधी बैठकें की

भोपाल : शनिवार, जून 10, 2017
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज से प्रदेश में शांति बहाली के लिये भेल दशहरा मैदान पर उपवास शुरू किया। इस दौरान उन्होंने किसानों से चर्चा के अलावा तीन बैठकें ली और नियमित शासकीय कार्य किया। उन्होंने आगामी 2 जुलाई को होने वाले वृक्षारोपण की तैयारियों, हमीदिया अस्पताल की व्यवस्थाओं और कानून व्यवस्था के संबंध में बैठक ली।

प्रदेश में आगामी दो जुलाई को नर्मदा के तटों पर 6 करोड़ पौधे लगाने की व्यापक तैयारियाँ जारी हैं। बैठक में बताया गया कि आगामी 2 जुलाई को वृक्षारोपण के लिये अब तक एक लाख वृक्षसेवकों का पंजीयन हो गया है। आगामी 15 जून तक 11 लाख वृक्षसेवकों का पंजीयन हो जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अभियान की तैयारियों में तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि आगामी 15 जून के बाद सभी मंत्री एवं विधायक पेड़ लगाने का वातावरण बनाने के लिये दौरे करेंगे। वे स्वयं भी इन जिलों में दौरे करेंगे। बताया गया कि नर्मदा तट के सभी जिलों में पौधों की उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है। पौधे लगाने के लिये गड्डे खोदने का काम आगामी 20 जून तक पूरा हो जायेगा। पौधों की सुरक्षा और देख-रेख के लिये पौध रक्षक नियुक्त किये जायेंगे। पौधों के वृक्षारोपण स्थलों तक परिवहन की व्यवस्थाएँ की गई हैं।

बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, वन मंत्री श्री गौरीशंकर शेजवार, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, मुख्य सचिव श्री बी.पी.सिंह, अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री आर.एस.जुलानिया, अपर मुख्य सचिव वन श्री दीपक खाण्डेकर और मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव द्वय श्री अशोक वर्णवाल एवं श्री एस.के. मिश्रा भी उपस्थित थे।

हमीदिया अस्पताल की व्यवस्थाओं की समीक्षा

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज भेल दशहरा मैदान पर हमीदिया अस्पताल की व्यवस्थाओं की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि अस्पताल में रिक्त पदों की भर्ती समय पर की जाये। मरीजों को कोई परेशानी नहीं हो। मरीजों के लिये बेहतर जाँच व्यवस्थाएँ उपलब्ध रहें।

बताया गया कि हमीदिया अस्पताल में सी.टी.स्केन और एमआरआई जाँच की व्यवस्थाएँ की जा रही हैं। अस्पताल में साफ-सफाई और सुरक्षा की बेहतर व्यवस्थाएँ की गई हैं। बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, मुख्य सचिव श्री बी.पी.सिंह, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव द्वय श्री अशोक वर्णवाल एवं श्री एस.के. मिश्रा एवं प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्रीमती गौरी सिंह उपस्थित थीं।

कानून-व्यवस्था की समीक्षा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने यहाँ प्रदेश में कानून व्यवस्था की भी समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि पिछले दिनों हुए किसान आंदोलन के दौरान जिन छोटे व्यापारियों की दुकानें आगजनी में नष्ट हुई हैं उन्हें मुआवजा देने की कार्रवाई की जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि स्थिति पर सतत निगाह रखी जाये। बताया गया कि प्रदेश में स्थिति नियंत्रण में है।

बैठक में मुख्य सचिव श्री बी.पी.सिंह, पुलिस महानिदेशक श्री आर.के.शुक्ला, एडीजी इंटेलीजेन्स श्री राजीव टंडन, एडीजी मुख्यमंत्री सचिवालय श्री आदर्श कटियार, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव द्वय श्री अशोक वर्णवाल एवं श्री एस.के. मिश्रा भी उपस्थित थे।

aum

Leave a Reply

Your email address will not be published.