• Thu. Feb 9th, 2023

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सिंगरौली हवाई पट्टी का भूमि-पूजन किया
madhyapradesh ki khas khabren,mpnews,madhyapradesh news,madhyapradesh ke samachar,ShivrajSinghChouhan,shivrajsingh chouhan,mpcm,chiefminister of madhyapradesh,todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood news,today india news,today indiaमुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सिंगरौली के समग्र विकास के लिए प्रारंभ कार्यों को शीघ्र पूर्ण किया जाएगा। इसे आदर्श स्मार्ट सिटी भी बनाया जाएगा। यहां हवाई पट्टी सिर्फ एक हवाई पट्टी न होकर प्रगति की नई और महत्वपूर्ण शुरुआत है। इससे आर्थिक विकास को गति मिलेगी। इस हवाई पट्टी को सुविधा युक्त हवाई अड्डे के रूप में विकसित किया जाएगा, ताकि इसका पूरा लाभ क्षेत्र को प्राप्त हो। देश के प्रमुख नगरों से जुड़कर अब इस क्षेत्र को पर्यटन, रोजगार और औद्योगिक विकास की दृष्टि से स्थान मिल सकेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास से रिमोट द्वारा सिंगरौली एयर स्ट्रिप का वर्चुअल भूमि-पूजन करते हुए कहा कि सिंगरौली हवाई पट्टी सिंगरौली क्षेत्र के विकास में मील का पत्थर सिद्ध होगी। राज्य शासन ने 80 हेक्टेयर भूमि सिंगरौली हवाई पट्टी के लिए आवंटित की है। इसकी लागत 35.30 करोड़ रुपए है। यह कार्य समय सीमा में गुणवत्ता के साथ पूर्ण हो और इसे हवाई अड्डे के रूप में विकसित किया जाए ताकि देश के अन्य नगरों से भी इसे जोड़ा जा सके। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अब हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई जहाज में बैठ सकता है। मध्यम वर्ग या निम्न मध्यम वर्ग के लोगों को भी हवाई यात्रा की सुविधा मिल सकती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सिंगरौली आने को दिल करता है। कोरोना ने कदम रोक लिए हैं। कोरोना ने कार्य पद्धति को भी बदल दिया है। आज भौतिक रूप से न सही लेकिन वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से कार्यक्रम में शामिल होने का अवसर मिला है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सिंगरौली सिंगापुर बनेगा। हम सभी ने मिलकर सिंगरौली के विकास की योजना बनाई है। सिंगरौली जिले ने प्रत्येक क्षेत्र में प्रगति की है। प्रदेश का खनिज राजस्व सर्वाधिक इस क्षेत्र से प्राप्त होता है। इसके साथ ही यहां 15 हजार मेगावाट विद्युत उत्पादन भी हो रहा है। सबसे सस्ती बिजली सिंगरौली सासन प्लांट से एक रूपया 19 पैसे की दर से मिलना शुरू हुई। कोयला खदानों से रोजगार के अवसर बढ़े हैं। यहां 70% स्थानीय लोगों को रोजगार मिले, इस दिशा में प्रयास बढ़ाए जाएंगे। सिंगरौली प्रदेश और देश का प्रमुख पावर हब है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वर्ष 2008 में इसे जिला घोषित किया गया था तब यह विचार था कि सिंगरौली को प्रदेश का सबसे विकसित जिला बनाएंगे। गत 12 वर्ष में सिंगरौली ने प्रत्येक क्षेत्र में प्रगति की है। कोयला उत्पादन में भी वृद्धि हुई है, रोजगार और अर्थव्यवस्था को पावर प्लांट और कोयला खदानों से गति मिली है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सिंगरौली में मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज प्रारंभ करने, सीधी सिंगरौली सड़क मार्ग के शीघ्र निर्माण करवाने की बात कही। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया की गोंड सिंचाई परियोजना जिसकी लागत 885 करोड़ रुपए है, क्षेत्र की तस्वीर बदल देगी क्योंकि इससे 33 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई हो सकेगी। इससे सिंगरौली जिले में किसानों के खेतों तक पानी पहुंचेगा और बेहतर सिंचाई हो सकेगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव इन कार्यों की समय सीमा में पूर्णता सुनिश्चित करेंगे। सिंगरौली हवाई पट्टी के निर्माण से क्षेत्र के विकास में नए आयाम जुड़ेंगे। खजुराहो सहित पन्ना नेशनल पार्क और अन्य स्थानों को देखने देशी-विदेशी पर्यटक आ सकेंगे। सिंगरौली के उद्योग जगत को लाभ मिलेगा। राज्य सरकार उद्यमियों का विकास में सहयोग भी प्राप्त करेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वे शीघ्र ही सिंगरौली आकर अन्य निर्माण और विकास कार्यों का शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्ट्रीट वेंडर योजना के अंतर्गत सिंगरौली जिले में छोटे व्यवसायियों जैसे लोहार बसोड़, चर्मकार, केश शिल्पी, सब्जी विक्रेता, फल विक्रेता आदि को अधिक से अधिक संख्या में लाभान्वित करने के निर्देश दिए। उन्होंने नागरिकों से कोरोना से बचाव के लिए पर्याप्त सावधानियां रखने का आग्रह भी किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी देश और किसानों के विकास के क्षेत्र में अभूतपूर्व कार्य कर रहे हैं तीनों नए कानून किसानों के हित में है। किसान अपना उत्पादन मंडी के अलावा कहीं भी बेच सके, इसकी सुविधा प्रदान की जा रही है। न्यूनतम समर्थन मूल्य जारी रहेगा। किसान कांट्रैक्ट फार्मिंग के अंतर्गत लाभान्वित होंगे। निर्धारित किए गए दाम से कम कीमत किसान को नहीं मिलेगी। इससे किसान लाभ में ही रहेगा। प्रदेश में किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर कर्ज उपलब्ध है। किसान सम्मान निधि में राशि बढ़ाई गई है। संबल योजना भी फिर से शुरू हुई है। किसानों को फसल बीमा योजना का लाभ भी दिलवाया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हाल ही में होशंगाबाद जिले में तीन हजार क्विंटल की दर से किसानों से धान राइस कंपनी द्वारा खरीदने का उदाहरण बताते हुए कहा कि नए कानून का विरोध बिल्कुल तर्कसंगत नहीं है। नए कानून किसानों के कल्याण के लिए हैं।

लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने सागर से वीडियो कांफ्रेंस द्वारा भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल होते हुए कहा कि औद्योगिकीकरण, ऊर्जा, कोयला उत्खनन के लिए प्रसिद्ध सिंगरौली में लोक निर्माण विभाग हवाई पट्टी का निर्माण कार्य कर रहा है। एयर कनेक्टिविटी से उद्यमियों, पर्यटकों के आने जाने के अलावा विभिन्न गंभीर रोगियों को भी दिल्ली, बनारस, लखनऊ आदि के चिकित्सा संस्थानों में भेजकर उपचार का लाभ दिलवाने में यह हवाई पट्टी उपयोगी सिद्ध होगी। प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग श्री नीरज मंडलोई ने उपस्थित जनप्रतिनिधियों का आभार व्यक्त किया। सांसद सुश्री रीति पाठक, सिंगरौली जिले के विधायक गण और नागरिक कार्यक्रम में उपस्थित थे।madhyapradesh ki khas khabren,mpnews,madhyapradesh news,madhyapradesh ke samachar,ShivrajSinghChouhan,shivrajsingh chouhan,mpcm,chiefminister of madhyapradesh,todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood news,today india news,today india

aum

Leave a Reply

Your email address will not be published.