होम आइसोलेसन में मध्यप्रदेश को बनायें आइडियल – मुख्यमंत्री चौहान

होम आइसोलेसन में मध्यप्रदेश को बनायें आइडियल – मुख्यमंत्री चौहान
madhyapradesh ki khas khabren,mpnews,madhyapradesh news,madhyapradesh ke samachar,ShivrajSinghChouhan,shivrajsingh chouhan,mpcm,chiefminister of madhyapradesh,todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood24,today india news,today indiaऑक्सीजन का सुनियोजित वितरण करें
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि होम आइसोलेसन को इस प्रकार से सुनियोजित करें कि देश भर में आइडियल बने। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज कोविड 19 की रोकथाम एवं व्यवस्थाओं के संबंध में कोर ग्रुप सदस्यों एवं अधिकारियों से वर्चुअल चर्चा कर रहे थे। चर्चा में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोविड की व्यवस्थाओं की जानकारी प्राप्त की। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि इंदौर एवं भोपाल में नए प्रकरणों में जहाँ कमी आई है वहीं ग्वालियर में कोविड के नए केस सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि जिन जिलों में एक सप्ताह में 50 से कम नए केस पंजीकृत हुए हैं, उनमें सबसे कम 13 केस उमरिया जिले में दर्ज किए गए हैं।

किल कोरोना अभियान में दिखाए तेजी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि किल कोरोना अभियान पर अधिकारी एवं प्रभारी मंत्री तेजी से काम करें। उन्होंने कहा कि हमें यह प्रयास करना है कि भोपाल, इंदौर, जबलपुर, उज्जैन एवं ग्वालियर में आक्सीजन एवं बेड की आपूर्ति एवं उपलब्धता को कैसे बढ़ाया जाए।सरकारी हॉस्पिटल के साथ प्रायवेट हास्पिटल में बिस्तरों की संख्या में किस प्रकार वृद्धि की जा सकती है। उन्होंने कहा कि कोरोना के ऑकड़ों को देखें तो यही समय है जब कोरोना को समाप्त किया जा सकता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि होम आइसोलेटेड मरीजों के पास कोविड गाइड-लाइन के संबंध में एक पैम्फलेट किट के साथ पहुँचाए। होम आइसोलेसन के मरीजों से कोविड की प्रॉपर गाइड-लाइन का पालन करवाया जाये।

योग से होंगे निरोग

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि योग से निरोग अभियान में 2500 योग गुरूओं ने पंजीयन कराया है। आगामी कुछ दिनों में यह संख्या लगभग 5000 से अधिक होने की संभावना है। दवाओं के साथ होम क्वारेंटाइन मरीजों को योग का प्रशिक्षण भी दिया जायेगा, जिससे उनकी ऑक्सीजन क्षमता में वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड केयर सेन्टर बनाए गए हैं। इन सेंटर का बेहतर से बेहतर इस्तेमाल करें। ग्रामीण क्षेत्रों में भी ग्रामीण महिलाओं ने स्वयं लोगों के आने-जाने पर रोक लगाई है। स्वत: कफर्यू भी अपने गाँवों में लगाये हैं। उन्होंने कहा कि शहरों में माइक्रो कन्टेन्टमेंट बनाएं।

11 नए ऑक्सीजन केन्द्र स्वीकृत

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि स्थानीय स्तर पर ऑक्सीजन प्लांट स्थापना का कार्य किया जा रहा है। अभी तक 6 ऑक्सीजन प्लांट क्रियाशील हो गए हैं। आगामी एक-दो दिन में चार प्लांट ओर शुरू हो जायेंगे। आज देवास, मंडला, दमोह, छतरपुर, होशंगाबाद, राजगढ़, शाजापुर, भिण्ड, सीधी, पन्ना एवं धार में भी पीएसए आधारित 11 नए ऑकसीजन प्लांट स्वीकृत किए गए हैं। इस तरह पीएसए आधारित कुल 63 प्लांटों का कार्य तेजी से प्रगतिरत है।

ऑक्सीजन टेंकर के लिए रियल टाइम मैनेजमेंट करें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ऑक्सीजन टैंकर के लिए रियल टाइम मैनेजमेंट का नियम बनाए। टैंकर बढ़ाने के लिए हमें प्रयास करना चाहिए। पिछले एक-दो दिन में स्थिति पहले से बेहतर हुई हैं। राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविन्द सिंह राजपूत ने सुझाव दिया कि गुना के विजयपुर स्थित गेल के पास ऑक्सीजन भी है और टैंकर भी, जिनका हमें उपयोग करना चाहिए। इस पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अधिकारियों को वस्तु-स्थिति से अवगत कराने के लिए कहा। चर्चा में मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने सुझाव दिया कि हमें आक्सीजन के सुव्यवस्थित वितरण पर ध्यान देना है। ऑक्सीजन हॉस्पिटल को कितनी दी गई, कितनी उसकी खपत हुई और उसका पूरा ऑडिट भी कराया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इंटरनल डिस्ट्रीब्यूशन का सिस्टम परफेक्ट होना चाहिए।
madhyapradesh ki khas khabren,mpnews,madhyapradesh news,madhyapradesh ke samachar,ShivrajSinghChouhan,shivrajsingh chouhan,mpcm,chiefminister of madhyapradesh,todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood24,today india news,today india