प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतर्राष्‍ट्रीय भारती महोत्‍सव को संबोधित किया, कहा–मुद्रा ऋण ने 15 करोड महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्‍मनिर्भर बनाया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतर्राष्‍ट्रीय भारती महोत्‍सव को संबोधित किया, कहा–मुद्रा ऋण ने 15 करोड महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्‍मनिर्भर बनाया
todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood news,today india news,today indiaप्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने दोहराया है कि केन्‍द्र सरकार गरीबों सहित देश के प्रत्‍येक नागरिक के सशक्‍तीकरण के प्रयास कर रही है। महिलाओं के सशक्‍तीकरण को महाकवि सुब्रमण्‍य भारती का महत्‍वपूर्ण विचार बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि अब महिलाएं भी सशस्‍त्र सेनाओं में कमीशंड अधिकारी के तौर पर शामिल हो रही हैं।

प्रधानमंत्री ने आज शाम वीडियो कान्‍फ्रेंस के जरिए चेन्‍नई में वानविल संस्‍कृति केन्‍द्र द्वारा आयोजित अंतर्राष्‍ट्रीय भारती महोत्‍सव को संबोधित करते हुए कहा कि 15 करोड़ महिलाओं को मुद्रा ऋण दिया गया है, और वे आर्थिक रूप से सबल बन रही हैं। उन्‍होंने कहा कि भारती, राष्‍ट्रवाद और तमिल भाषा अभिमान को अलग-अलग रखते थे। उन्‍होंने कहा कि सुब्रमण्‍य भारती अपनी जड़ों से जुड़कर भविष्‍य की ओर देखते थे। श्री मोदी ने कहा कि उन्‍होंने अतीत में नहीं रहने और वैज्ञानिक सोच विकसित करने पर जोर दिया था।

तमिलनाडु के मुख्‍यमंत्री ईड़ापड़ी पलनीस्‍वामी ने कहा कि भारती ने अपने लेखन और भाषणों में राष्‍ट्रीय एकता और अखंडता पर जोर दिया। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर प्रख्‍यात लेखक सीनी विश्‍वनाथन को इस वर्ष का भारती पुरस्‍कार प्रदान किया।
=================
courtesy
=================
todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood news,today india news,today india