केन्‍द्र सरकार और किसान संगठनों के बीच सातवें दौर की वार्ता आज नई दिल्‍ली में संपन्‍न, अगली बैठक शुक्रवार को

केन्‍द्र सरकार और किसान संगठनों के बीच सातवें दौर की वार्ता आज नई दिल्‍ली में संपन्‍न, अगली बैठक शुक्रवार को
kisan andolan,todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood24,today india news,today indiaसरकार ने आज नई दिल्ली में विज्ञान भवन में किसानों से संबंधित मुद्दों पर किसान संगठनों के साथ सातवें दौर की बातचीत की। बैठक में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल तथा वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश और विभिन्न किसान संगठनों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में कृषि मंत्री ने कहा कि सरकार चाहती है कि किसान संगठन तीनों कृषि कानूनों पर चर्चा करें, लेकिन बैठक बेनतीजा रही, क्योंकि किसान संगठन इन तीनों कानूनों को रद्द करने पर अड़े रहे। श्री तोमर ने कहा कि सरकार और किसान संगठनों ने मुद्दे के सौहार्दपूर्ण समाधान के लिए आगे की चर्चा के लिए आठ जनवरी को बातचीत के लिए बैठक करने का फैसला किया है।

पहले की बैठक के दौरान, कृषि मंत्री ने किसान नेताओं को भरोसा दिलाया कि सरकार उनके मुद्दों को हल करने के लिए प्रतिबद्ध है और दोनों पक्षों को एक सद्भावपूर्ण समाधान पर पहुंचने के लिए कदम उठाने की जरूरत है। श्री तोमर ने दोहराया था कि न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य-एमएसपी और मंडी प्रणाली पहले की तरह जारी रहेगी।

कृषि मंत्री ने कहा कि न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य और इस मूल्‍य तथा कृषि उत्‍पादों की बाजार दरों में अंतर के लिए कानून बनाने की किसान संगठनों की मांग के मुद्दे को एक समिति के पास भेजा जाएगा जब ऐसी किसी समिति का गठन किया जाता है।

कृषि कानूनों को रद्द करने की किसान संगठनों की मांग पर श्री तोमर ने कहा कि यह भी एक समिति को भेजा जा सकता है जो किसानों के कल्याण को ध्यान में रखते हुए संवैधानिक वैधता और स्वामित्व के बारे में अध्ययन करेगी।
==========
courtesy
==========
kisan andolan,todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood24,today india news,today india