सरकार ने कहा – भारत में दस लाख आबादी पर कोविड मरीजों और मरने वालों की संख्‍या विश्‍व में सबसे कम बनी हुई है।

सरकार ने कहा – भारत में दस लाख आबादी पर कोविड मरीजों और मरने वालों की संख्‍या विश्‍व में सबसे कम बनी हुई है।
todayindia,todayindia news,today india,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood24,today india newsसरकार ने कहा है कि कोविड महामारी की दूसरी लहर को देखते हुए अगले चार सप्‍ताह के दौरान देश में स्थिति बहुत नाजुक होगी। सरकार का मानना है कि संक्रमण के बढते मामलों पर काबू पाने के लिए लोगों की भागीदारी बहुत महत्‍वपूर्ण है। नीति आयोग के सदस्‍य वी० के० पॉल ने नई दिल्‍ली में संवाददाताओं को बताया कि कोरोना के बढते मामलों को देखते हुए कोविड नियमों का कड़ाई से पालन कि‍या जाना चाहिए। उन्‍होंने लोगों से अपील की कि वे टीका जरूर लगवाएं। श्री पॉल ने यह भी कहा कि दुनिया भर में कही भी 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों का टीकाकरण नहीं किया जा रहा है।

सरकार ने हालांकि यह भी कहा है कि भारत में कोरोना संक्रमण के मामले और इससे मरने वालों की संख्‍या, अन्‍य देशों की तुलना में अब भी सबसे कम बनी हुई है। केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सचिव राजेश भूषण ने नई दिल्‍ली में संवाददाताओं को बताया कि देश में प्रति दस लाख आबादी पर कोविड मामलों की संख्‍या नौ हजार एक सौ 92 है, जबकि विश्‍व औसत 16 हजार सात सौ 83 है। उन्‍होंने बताया कि सितम्‍बर के मध्‍य में कोविड मामलों में काफी वृद्धि हुई, लेकिन इसके बाद लगातार इनकी संख्‍या कम होती गई और फिर इस महीने के पहले सप्‍ताह में इसमें बढोतरी शुरू हुई है। श्री भूषण ने बताया कि देश में इस समय सक्रिय मामलों की संख्‍या सात लाख 88 हजार से अधिक है। उन्‍होंने बताया कि देश में दस ऐसे जिले हैं जिनमें संक्रमण के सबसे अधिक मामले सामने आ रहे हैं। इनमें से सात महाराष्‍ट्र में और एक-एक कर्नाटक, छत्‍तीसगढ तथा दिल्‍ली में है।

स्‍वास्‍थ्‍य सचिव ने बताया है कि देश के कुल सक्रिय मामलों का लगभग 58 प्रतिशत केवल महाराष्‍ट्र में है, जो बहुत चिंता की बात है। उन्‍होंने बताया कि राज्‍य में प्रतिदिन 44 हजार से अध‍िक मामले सामने आ रहे हैं जबकि फरवरी के दूसरे सप्‍ताह में प्रतिदिन औसतन तीन हजार लोग संक्रमित हो रहे थे। महाराष्‍ट्र में प्रतिदिन मरने वालों की संख्‍या भी 32 से बढकर दो सौ पचास हो गई है। श्री भूषण ने बताया कि केन्‍द्र सरकार ने महाराष्‍ट्र, छत्‍तीसगढ और पंजाब में भेजने के लिए 50 उच्‍च स्‍तरीय बहुआयामी जन स्‍वास्‍थ्‍य टीमें तैयार की हैं। ये महाराष्‍ट्र के तीस, छत्‍तीसगढ के 11 और पंजाब के नौ जिले में जाएंगी। ये टीमें संक्रमण पर नियंत्रण, निगरानी और कंटेनमेंट उपायों में इन राज्‍यों के स्‍वास्‍थ्‍य विभागों की सहायता करेंगे।

केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सचिव ने टीकाकरण के बारे में बताया कि देश में 80 से भी कम दिनों में आठ करोड से अधिक कोविड की खुराक दी गई हैं। उन्‍होंने कहा कि केन्‍द्र और राज्‍य सरकारों के बीच अच्‍छे तालमेल के कारण यह संभव हुआ है।
============
courtesy
============
todayindia,todayindia news,today india,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood24,today india news