शॉपिंग मॉल में आग, करोड़ों खाक

Jul 04 2016
मालदा: भीषण अग्निकांड में एक शॉपिंग मॉल की करोड़ों की संपत्ति जल कर राख हो गयी. शनिवार देर रात यह घटना मालदा शहर में रवींद्र भवन के पास राष्ट्रीय राजमार्ग-34 के किनारे स्थित एक शॉपिंग मॉल में घटी. शनिवार रात एक बजे से लेकर रविवार सुबह नौ बजे तक दमकलकर्मी आग बुझाने की कोशिश करते रहे.
आग लगने के कारणों के बारे में प्राथमिक तौर पर दमकलकर्मियों ने बताया कि कुछ बदमाश गैस कटर से शॉपिंग मॉल का गेट काटकर घुसने की कोशिश कर रहे थे. इसी दौरान मॉल में आग लग गयी. इंगलिश बाजार थाना पुलिस ने घटनास्थल से टूटे हुए दो ताले भी बरामद किये हैं.
नहीं थी पर्याप्त अग्निशमन व्यव्था
दमकलकर्मियों ने बताया कि पूरी बिल्डिंग में आग बुझाने के लिए कोई इंतजाम नहीं था. शॉपिंग मॉल के बाहर सड़क से आग बुझाने में दमकलकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी. पास में ही एक पेट्रोल पंप है. आग लगने की खबर पाकर पेट्रोल पंप के कर्मचारी पंप बंद करके भाग गये.
तीन मंिजली है शॉपिंग मॉल
पुलिस ने बताया कि तीन मंजिले शॉपिंग मॉल के निचले तल पर इलेक्ट्रॉनिक सामानों का गोदाम था. दूसरी मंंिजल पर बाइक कंपनी का गोदाम और तीसरी मंिजल खाली थी. इस बिल्डिंग के मालिक शहर के राजमहल रोड के निवासी संजीव सिन्हा हैं. उनका कहना है कि शनिवार रात उन्हें खबर मिली कि बिल्डिंग में आग लग गयी है. आग कैसे लगी, इस बारे में वह कुछ कहने की स्थिति में नहीं हैं.
स्थानीय लोगों ने बताया कि शनिवार रात 12.30 बजे के आसपास बिल्डिंग से आग की लपटें निकलतीं देखी गयीं. फोन करके उन लोगों ने पुलिस व दमकल को खबर दी. खबर पाकर रात करीब एक बजे दमकल के दो इंजन पहुंचे. बाद में अन्य जगहों से तीन और इंजन बुलाये गये. बिल्डिंग के अंदर ज्वलनशील पदार्थ होने की वजह से आग इतनी तेजी से फैली कि उस पर काबू पाना मुश्किल हो गया. बिल्डिंग में घुसने का सिर्फ एक रास्ता होने के चलते आग बुझाना और मुश्किल हो गया. आग बुझाते-बुझाते सुबह के नौ बज गये. बिल्डिंग की चहारदीवारी तोड़कर दमकलकर्मी भीतर घुसे और आग बुझाने का इंतजाम किया.

दमकल विभाग के मालदा के डिवीजनल ऑफिसर तारक नाथ प्रधान ने बताया कि घटनास्थल से कई टूटे हुए ताले मिले हैं. उन्होंने आशंका जतायी कि चोर गैस कटर से दरवाजा काटकर बिल्डिंग में घुसने की कोशिश कर रहे थे. इसी दौरान आग लग गयी. बिल्डिंग के अंदर आग बुझाने का कोई इंतजाम नहीं था. पानी का कोई स्रोत नहीं होने के कारण बाहर से पानी लाकर आग बुझायी गयी. इस हादसे में कितने का नुकसान हुआ है, इस बारे में पुलिस अभी कुछ कह पाने की स्थिति में नहीं है.
बिल्डिंग में इलेक्ट्रॉनिक्स का जो गोदाम था, उसमें फ्रिज, टीवी, वाशिंग मशीन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक घरेलू उपकरण रखे हुए थे. इस कंपनी के चीफ मैनेजर ने बताया कि करीब ढाई करोड़ रुपये की संपत्ति नष्ट हो गयी है. दूसरे तल्ले पर स्थित बाइक गोदाम में कितने का नुकसान हुआ, इस बारे में जानकारी नहीं मिल पायी है. इस घटना की पुलिस और दमकल विभाग ने अपनी-अपनी जांच शुरू कर दी है.
courtesy