वाल्मीकी समाज के लिये सभी जरूरी कदम उठाये जायेंगे-मुख्यमंत्री चौहान

भोपाल : रविवार, अक्टूबर 16, 2016
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वाल्मीकी समाज की जरूरतमंद महिलाओं को मदद के लिये महर्षि वाल्मीकी सीता आश्रम बनाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि नगर के एक वार्ड का नाम महर्षि वाल्मीकी रखा जायेगा। श्री चौहान आज जबलपुर में वाल्मीकी जयंती पर सामाजिक समरसता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वाल्मीकी समाज की बेहतरी के लिये राज्य सरकार सभी जरूरी कदम उठायेगी। उन्होंने कहा कि समाज के पात्र लोगों को आवास योजना में न केवल भूखण्ड उपलब्ध करवाये जायेंगे, बल्कि उन्हें मकान बनाने में भी मदद दी जायेगी। समाज के बच्चों को 12वीं तक शिक्षण संस्थाओं में नि:शुल्क शिक्षा दी जायेगी। समाज के छात्रा-छात्राओं को मुख्यमंत्री छात्र गृह योजना से लाभान्वित किया जायेगा। कक्षा 12वीं में 75 प्रतिशत अंक लाने पर लेपटॉप दिया जायेगा। मेडिकल, इंजीनियरिंग, आईआईटी और आईआईएम में प्रवेश मिलने पर फीस का प्रबंध भी सरकार द्वारा किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं से समाज के लोगों को लाभान्वित किया जायेगा।

श्री चौहान ने कहा कि महर्षि वाल्मीकी जैसा विद्वान दूसरा नहीं हुआ। उन्होंने रामायण जैसे महान ग्रंथ रचना की और सीता माता को अपने आश्रम में आश्रय दिया। वाल्मीकी जी ने भगवान राम के दोनों बच्चों को सभी प्रकार के युद्ध कौशल में पारंगत किया। श्री चौहान ने कहा कि इतिहास गवाह है कि वाल्मीकी समाज कभी अपने वचन से नहीं टलता और रक्त की अंतिम बूँद तक अपने वचन पर कायम रहता है।

श्री चौहान ने उपस्थित जन समूह को अपने समाज, प्रदेश और देश को आगे बढ़ाने का संकल्प भी दिलवाया। मुख्यमंत्री ने महर्षि वाल्मीकी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर 11 कन्याओं का पूजन भी किया। मुख्यमंत्री ने समाज की विशिष्ट प्रतिभाओं का सम्मान एवं विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत हित लाभ भी वितरित किये। मुख्यमंत्री ने जबलपुर में महर्षि वाल्मीकी के नाम पर मंगल भवन निर्माण की घोषणा की।

इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री शरद जैन, विधायक श्री अंचल सोनकर और श्रीमती प्रतिभा सिंह तथा अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।