वर्षा ऋतु के मद्देनजर तैयारियाँ चाक-चौबंद रहें

 

भोपाल : मंगलवार, जुलाई 5, 2016
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वर्षा ऋतु से संबंधित चुनौतियों से निपटने के पुख्ता प्रबंध किये जायें। बाढ़, जल-भराव और मौसमी बीमारियों से बचाव राहत की तैयारियाँ चाक-चौबंद रहे। श्री चौहान आज मंत्रालय में समाधान ऑनलाइन के जरिये संभागायुक्त और कलेक्टरों को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नरसिंहपुर में गर्भवती महिला को जननी एक्सप्रेस और 108 की सेवाएँ नहीं मिलने को अमानवीय बताते हुए गहरी अप्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने घटना के कारणों और दोषी व्यक्तियों के विरूद्ध की गई कार्रवाई की जानकारी ली। बताया गया कि घटना की जाँच कराकर दोषी व्यक्तियों को पद से पृथक कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि 108 और जननी एक्सप्रेस जैसी बुनियादी सुविधाएँ सदैव चुस्त-दुरूस्त रहनी चाहिये। इसमें लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। जिले की बुनियादी सेवाएँ और आम-जन की समस्याओं के निराकरण की प्रभावी व्यवस्थाएँ ही सुशासन हैं। कलेक्टर की परफार्मेंस का इन्हीं के आधार पर निर्धारण किया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने उज्ज्वला योजना में गैस सिलेंडरों और भूमि पट्टा वितरण कार्य को पारदर्शी तरीके से सामूहिक कार्यक्रम कर किए जाने के निर्देश दिए। पेंशन और मनरेगा की मजदूरी का वितरण तत्काल किए जाने पर विशेष जोर दिया। बैंक शाखाओं की दूरी और वन ग्राम आदि कारणों से होने वाले विलंब के मामलों में वैकल्पिक व्यवस्था किए जाने के सुझाव भी कलेक्टरों से मांगे। उन्होंने ग्रामोदय से भारत उदय अभियान की फॉलोअप कार्रवाई का प्रतिवेदन माह के मध्य तक भेजने के निर्देश देते हुये बताया कि अभियान के दौरान की गई कार्रवाई के आधार पर अधिकारियों की चरित्रावली लिखी जायेगी।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने समाधान ऑनलाइन में प्राप्त शिकायतों के समाधान की जानकारी ली। उन्होंने शिकायतों का जन-सुनवाई आदि अन्य व्यवस्थाओं में निराकरण नहीं होने को चिंतनीय बताया। निर्देशित किया कि किस जिले से कितनी शिकायतें प्राप्त हो रही हैं इसकी समीक्षा की जाये। परीक्षण किया जाये कि कार्यक्रम में आने से पहले उनका निराकरण क्यों नहीं हुआ। श्री चौहान ने सीहोर निवासी श्री शैलेन्द्र को मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में प्रोत्साहन राशि वितरण में विलंब की जानकारी ली। राशि वितरण की जानकारी दिए जाने पर विलंब के कारणों का समाधान करने को कहा। झाबुआ के श्री नीरज सिंह राठौर को राजीव गाँधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय द्वारा टेंट लगाने के देयक 12 लाख 87 हजार 982 रूपए का भुगतान कर दिया गया है। होशंगाबाद के अनुदान प्राप्‍त एस.एन.जी. उच्चतर माध्यमिक विद्यालय डोलरिया के सेवानिवृत्त शिक्षक श्री खुमान सिंह को 1,61,092 रूपए के स्वत्वों का भुगतान करवाने की जानकारी दी गई। गुना जिले के सेवानिवृत्त उप निरीक्षक श्री एम.एल. शर्मा के समयमान वेतनमान के आवेदन को नियमानुसार अपात्र पाए जाने पर निरस्त कर दिया गया। अशोकनगर के श्री अशोक द्वारा सितम्बर 2015 में राशि जमा करने के बावजूद विलंब से ट्रांसफार्मर लगाने पर बढ़ी लागत राशि आवेदक से नहीं लेने के निर्देश दिये गये। उज्जैन के श्री उदेराम को शौचालय निर्माण, अनूपपुर के श्री रविन्द्र कुमार जायसवाल को तेन्दूपत्ता संग्रहण के बोनस की राशि और भोपाल जिले में वन विभाग के मजदूरों को मजदूरी का भुगतान किए जाने की जानकारी दी गई। भोपाल जिले के एस.ओ.एस. ग्राम की कुमारी शिल्पी, सानिया और विदुषी के चिकित्सकीय परीक्षण बाद जन्म प्रमाण-पत्र दिए जा रहे हैं। साथ ही आगामी 10 दिवस में ऐसे 73 अन्य प्रकरण में जन्म प्रमाण-पत्र जारी करवाने की जानकारी कलेक्टर भोपाल ने दी। मुख्यमंत्री ने उमरिया जिले के श्री रामकिंकर को कपिलधारा कूप की राशि समिति सेवक द्वारा गबन करने के कारण विलंब की जानकारी मिलने पर मुख्य सचिव को निर्देशित किया कि वे 15 दिवस में प्रदेश के सभी जिला कलेक्टरों से सहकारी समितियों में गबन और ऐसे अन्य प्रकरणों में की गई कार्रवाई की जानकारी प्राप्त कर समीक्षा करें।

मुख्य सचिव श्री अंटोनी डिसा ने शाजापुर जिले के श्री सीताराम के पुत्र की नदी में डूबने से मृत्यु के प्रकरण को गढढे में गिरकर हुई मौत बता कर राहत नहीं देने के मामले में नायब तहसीलदार शुजालपुर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया।