पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ(Parvej Musharraf) को मौत की सजा

(todayindia) पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ(Parvej Musharraf) को मौत की सजाराजद्रोह के मामले में पाकिस्‍तान के पूर्व सैन्‍य शासक परवेज मुशर्रफ(Parvej Musharraf) को मौत की सजा पाकिस्‍तान में विशेष अदालत ने राज-द्रोह के मामले में पूर्व सैन्‍य शासक परवेज मुशर्रफ को मौत की सजा सुनाई है। पेशावर उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश वकार अहमद सेठ की अध्यक्षता में विशेष अदालत की तीन सदस्यीय पीठ ने 76 वर्षीय मुशर्रफ को लंबे समय से चल रहे देशद्रोह के मामले में मौत की सजा सुनाई।(todayindia)

पाकिस्‍तान में किसी पूर्व सैन्‍य शासक को पहली बार अदालत ने ऐसी सजा सुनाई है। पूर्व सैन्य प्रमुख मार्च 2016 में इलाज के लिए दुबई गए थे और सुरक्षा एवं सेहत का हवाला देकर तब से लौटे नहीं हैं। मुशर्रफ इस समय दुबई में हैं। उनपर नवम्‍बर 2007 में आपातकाल की घोषणा के बाद सैन्‍य शासक बनने के मामले में मुकदमा चल रहा था। यह मुकदमा दिसम्‍बर 2013 से लंबित था। मुशर्रफ को मार्च 2014 में दोषी ठहराया गया था।

सरकारी पक्ष ने सितम्‍बर 2014 में विशेष अदालत के समक्ष सभी प्रमाण पेश किये। अपीलीय अदालत में याचिकाओं के कारण ये मामला लटकता रहा और मार्च 2016 में मुशर्रफ(Parvej Musharraf) ने पाकिस्‍तान छोड़ दिया।
भारत विभाजन से पहले परवेज मुशर्रफ(Parvej Musharraf) का जन्म नई दिल्ली के दरियागंज में 11 अगस्त 1943 को हुआ। 1947 में आजादी के बाद मुशर्रफ का परिवार पाकिस्तान चला गया था। उनका परिवार विभाजन से महज एक दिन पहले पाकिस्तान गया।(todayindia)
================
courtesy