मुख्यमंत्री चौहान ने गणतंत्र दिवस पर रीवा में ध्वज फहराकर ली परेड की सलामी

मुख्यमंत्री चौहान ने गणतंत्र दिवस पर रीवा में ध्वज फहराकर ली परेड की सलामी
madhyapradesh ki khas khabren,mpnews,madhyapradesh news,madhyapradesh ke samachar,ShivrajSinghChouhan,shivrajsingh chouhan,mpcm,chiefminister of madhyapradesh,todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood24,today india news,today india,aaj ki khas khabrenह्रदय प्रदेश मध्यप्रदेश को सर्वश्रेष्ठ राज्य बनायेंगे – मुख्यमंत्री
रीवा की सुपारी कलाकृतियां और सुंदरजा आम दुनिया भर में भेजा जायेगा – मुख्यमंत्री
शासकीय सेवकों के एरियर्स की एक-एक पाई का भुगतान होगा – मुख्यमंत्री

गणतंत्र दिवस का रंगारंग और भव्य कार्यक्रम एसएएफ मैदान रीवा में आयोजित किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने ध्वज फहराकर परेड की सलामी ली। समारोह में सुरक्षा बलों ने आकर्षक और मनोहारी परेड का प्रदर्शन किया। समारोह में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश तथा प्रदेश के विकास को चित्रित करती हुई विभिन्न विभागों की आकर्षक झांकियां प्रस्तुत की गईं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर उन्मुक्त आकाश में गुब्बारों का उड्डयन किया। उन्होंने परेड कमाण्डर एवं प्लाटून कमाण्डरों से परिचय प्राप्त किया। इस दौरान मध्यप्रदेश गान का गायन भी हुआ। पुलिस बल ने हर्ष फायर कर महामहिम राष्ट्रपति की जय का उद्घोष किया।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गणतंत्र दिवस पर आम जनों को संबोधित करते हुए कहा कि ह्रदय प्रदेश मध्यप्रदेश को सर्वश्रेष्ठ राज्य बनायेंगे। इसके लिये सरकार और शासन के साथ-साथ प्रत्येक नागरिक का सहयोग आवश्यक होगा। जब प्रदेश के आठ करोड़ जन आगे कदम बढ़ायेंगे तो प्रदेश के विकास का पथ प्रशस्त हो जायेगा। प्रदेश वासियों को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्व-रोजगार तथा आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिये प्रयास किये जा रहे हैं। नगरों के साथ-साथ ग्रामों के विकास के लिये पांच वर्षीय कार्य योजना तैयार की जा रही है। रीवा प्रदेश का गौरवशाली जिला है। इसके विकास में किसी तरह की कोर कसर नहीं रहेगी। कोरोना संकट में प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूँ का रिकार्ड उपार्जन हुआ। इसमें रीवा का बहुत बड़ा योगदान था। धान उपार्जन में भी रीवा प्रदेश के पांच प्रमुख जिलों में शामिल है। गेंहू तथा धान के लिये रीवा के किसानों को एक हजार करोड़ रूपये की राशि प्रदान की गई है। रीवा में सुपारी से कलाकृति बनाने की अनूठी कला तथा विशिष्ट सुंदरजा आम है। इन्हें पूरी दुनिया में बेचने की व्यवस्था की जायेगी। इनका उत्पादन बढ़ाने से स्थानीय स्तर पर रोजगार तथा जिले का आर्थिक विकास होगा।


मुख्यमंत्री ने कहा कि गणतंत्र दिवस के अवसर पर नेताजी सुभाषचन्द्र बोस को नमन कर रहा हूं। उन्होंने तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आजादी दूंगा नारा देकर देश में आजादी की ज्योति जलाई। अंग्रेजों से अंडमान निकोबार द्वीप को आजाद कराकर नेताजी ने तिरंगा फहराया। आज उन वीरों को नमन किया जा रहा है जिनके त्याग और बलिदान से देश को आजादी मिली। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक वर्ष पहले प्रदेश में कोरोना महामारी का संकट आया। कोरोना से दो-दो हाथ करने के लिये हमारे डॉक्टरों, नर्स, पुलिस तथा प्रशासन के लोगों ने अपने प्राण संकट में डालकर आम जनता की सेवा की। देश के दूरदर्शी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में हमने कोरोना को हराने की निर्णायक लड़ाई लड़ी। प्रधानमंत्री जी के आव्हान पर कोरोना वारियर्स का सम्मान तथा लॉकडाउन किया गया। लाखों प्रवासी मजदूरों को वाहन, भोजन और उपचार सेवाएँ दी गईं। अब कोरोना संकट के बादल छट रहे हैं। कोरोना रिकवरी की दर 96.6 प्रतिशत हो गई है। कोरोना से संघर्ष का पराक्रम अतुलनीय है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संकट में मनरेगा योजना से रिकार्ड काम हुआ। दिव्यांगजनों को पेंशन, खाद्यान्न तथा छात्रवृत्ति का नियमित वितरण किया गया। शासकीय सेवकों का वेतन नियमित किया गया। उनकी एरियर्स की राशि का भी पाई-पाई भुगतान किया जायेगा। उन्होंने कहा कि रीवा सहित पूरे विन्ध्य क्षेत्र के विकास के प्रयास किये जायेंगे। इसके लिये कार्य योजना बना ली गई है जिस पर तेजी से काम किया जायेगा। विकास के कार्यों के साथ भू-माफिया, खनन माफिया, नशे का कारोबार करने वाले, चिटफंड कंपनी बनाकर जनता को लूटने वाले तथा बेटियों से दुर्व्यवहार करने वालों और धर्मान्तरण कराने वालों को मध्यप्रदेश की धरती पर नहीं रहने दिया जायेगा। पूरे प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध अभियान चलाया जा रहा है। मिलावट करने वालों को भी नहीं छोड़ा जायेगा। माफियाओं के कब्जे से आठ हजार करोड़ रूपये की कीमत की जमीन मुक्त करायी गई है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि बेटियों को आगे बढ़ने का पूरा अवसर दिया जायेगा। नारी सुरक्षा और सम्मान के लिये पंख अभियान शुरू किया गया है। किसानों को फसल बीमा तथा किसान सम्मान निधि का लाभ दिया जा रहा है। किसानों को एक वर्ष में 83 हजार करोड़ रूपये से अधिक का लाभ दिया जा चुका है। जीरो प्रतिशत ब्याज पर कृषि ऋण की योजना पुन: शुरू हो गई है। संबल योजना शुरू की जा रही है। इससे गरीबों को शिक्षा, स्वास्थ्य, प्रसूति सहायता, बीमा सुरक्षा तथा अन्त्येष्टि सहायता का लाभ मिलेगा। आयुष्मान योजना से दो करोड़ से अधिक हितग्राहियों को हर वर्ष पांच लाख रूपये तक की नि:शुल्क उपचार सहायता दी जा रही है। प्रदेश में 2024 तक हर गरीब को पक्का आवास की सुविधा दी जायेगी। प्रदेश में आगामी चार सालों में हर घर को नल से जलापूर्ति की व्यवस्था होगी। इसके लिये 12 हजार से अधिक गांवों में समूह नलजल योजना का कार्य शुरू हो गया है।



मुख्यमंत्री ने कहा कि सुशासन के लिये मोबाइल के माध्यम से आय तथा निवास प्रमाण पत्र की सुविधा दी जायेगी। प्रदेश में महिला स्वसहायता समूह शानदार कार्य कर रहे हैं। उन्हें हाल ही में 900 करोड़ रूपये से अधिक की राशि जारी की गई है। लोकल को वोकल बनाने के हर संभव प्रयास किये जायेंगे। विन्ध्य में उन्नत सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। प्रदेश की सिंचाई क्षमता 7.5 लाख हेक्टेयर से बढ़ाकर 41 लाख हेक्टेयर की गई है। इसे 65 लाख हेक्टेयर तक बढ़ाया जायेगा। बिजली में आमजनों को 18 हजार करोड़ रूपये का अनुदान दिया जा रहा है। सौर ऊर्जा में रीवा ने कमाल कर दिखाया है। यहां 750 मेगावाट की सबसे बड़ी सौर परियोजना है। रोजगार का अवसर देने के लिये तीन लाख से अधिक स्ट्रीट वेंडर को दस हजार रूपये का ब्याजमुक्त ऋण दिया गया है। कोरोना संकट काल में भी प्रदेश के खिलाड़ियों ने दो सौ से अधिक पदक जीते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के विकास का कोई अवसर नहीं छोड़ा जायेगा। प्रदेश को विकसित करने के लिये पराक्रम की पराकाष्ठा करनी होगी। हर व्यक्ति अपनी जिम्मेदारी का निर्वाह और समाजसेवा का कोई एक कार्य करे। प्रदेश में नशामुक्ति तथा बेटियों की सुरक्षा और सम्मान के लिये भी अभियान चलाया जायेगा। जब हर प्रदेशवासी विकास में योगदान देगा तो प्रदेश की तस्वीर और तकदीर अवश्य बदलेगी।

समारोह में मुख्यमंत्री ने विभिन्न क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों तथा कर्मचारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने महिला-बाल विकास विभाग की झांकी में शामिल नन्हीं बेटियों को दुलार किया तथा महिला सुरक्षा का संदेश देने वाली कराटे खिलाड़ियों को आशीर्वाद दिया। समारोह में मुख्यमंत्री के साथ उनकी धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह ने भी शिरकत की। समारोह में सांसद श्री जनार्दन मिश्रा, विधायक रीवा एवं पूर्व मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल, विधायक सेमरिया श्री केपी त्रिपाठी, विधायक सिरमौर श्री दिव्यराज सिंह, विधायक त्योंथर श्री श्यामलाल द्विवेदी, विधायक देवतालाब श्री गिरीश गौतम, विधायक मऊगंज प्रदीप पटेल, विधायक मनगवां श्री पंचूलाल प्रजापति, जिला भाजपा अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह तथा अन्य जनप्रतिनिधिगण उपस्थित रहे। समारोह में रीवा संभाग के कमिश्नर राजेश कुमार जैन, जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री एके सिंह, आईजी उमेश जोगा, डीआईजी अनिल सिंह कुशवाह, कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी, पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्वप्निल वानखेड़े, आयुक्त नगर निगम मृणाल मीणा, एडीएम श्रीमती इला तिवारी, अधिकारीगण तथा बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित रहे।
madhyapradesh ki khas khabren,mpnews,madhyapradesh news,madhyapradesh ke samachar,ShivrajSinghChouhan,shivrajsingh chouhan,mpcm,chiefminister of madhyapradesh,todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood24,today india news,today india,aaj ki khas khabren