मीठी तुलसी और कद्दू की खेती से देवांशी-कमलेश बने उन्नत किसान(motivational news)

कटनी जिले के युवा किसान कमलेश हल्दकार और देवांशी देवा ने उन्नत कृषि तकनीकों को अपनाकर खेती को आमदनी का बेहतर जरिया बना लिया है। कमलेश हल्दकार ने ग्राम पंचायत इमलिया में 15 एकड़ में उन्नत किस्म के कद्दू व्हीएनआर-पी4 की बोनी की। इनके खेत से रोज 60-70 क्विंटल कद्दू उत्पादन हो रहा है। कमलेश इसे जिले की मण्डी के साथ राज्य के बाहर प्रयागराज (उत्तर प्रदेश) की मण्डी में भी बेचकर अच्छी आमदनी प्राप्त कर रहे हैं।(motivational news)(मीठी तुलसी)(कद्दू की खेती)((todayindia)(latest news)(breaking news)(national news)(bollywood news)(cricket news)(sports news)(political news)

युवा देवांशी देवा ग्राम मुंगेली में 30 एकड़ क्षेत्र में औषधीय पौधों की खेती कर रही हैं। देवांशी ने खेत में कॉन्टेक्ट फार्मिंग के माध्यम से स्टीविया (मीठी तुलसी) का पौधा-रोपण कराया है। औषधीय मीठी तुलसी का मदर प्लान्ट भी तैयार कर रही हैं। इससे जिले के अन्य किसानों को मीठी तुलसी के पौधे बेचेगी।

उद्यानिकी विभाग के विशेषज्ञ दोनों को उन्नत कृषि के बारे में मार्गदर्शन दे रहे हैं। साथ ही, अन्य ग्रामीणों को भी औषधीय पौधों की खेती के लिये प्रोत्साहित कर रहे हैं।(motivational news)(todayindia)(latest news)(breaking news)(national news)(bollywood news)(cricket news)(sports news)(political news)(मीठी तुलसी)(कद्दू की खेती)