भारत और रूस की तीनों सेवाओं का संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘इंद्र-2019’ का समापन

भारत और रूस की तीनों सेवाओं का संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘इंद्र-2019’ का समापन
भारत और रूस की तीनों सेवाओं का दूसरा संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘इंद्र-2019’ आज बबीना, पुणे और गोवा में पूरा हो गया। इस अभ्यास के अंतर्गत आतंकवादरोधी और उग्रवादरोधी संयुक्त प्रशिक्षण किया गया, जो संयुक्त राष्ट्र के नीतिगत आदेशों के अनुरूप था। इस दौरान आतंकवादरोधी अभियानों से जुड़े महत्वपूर्ण व्याख्यान, प्रदर्शन और ड्रिल के जरिए संयुक्त रूप से अभ्यास किया गया। दोनों देशों की सेनाओं ने अपनी विशेषज्ञता और अनुभवों को साझा किया।

सैन्य अभ्यास का अंतिम दौर 19 दिसंबर, 2019 को पूरा हुआ। इस दौरान दोनों देशों की सेनाओं ने विशेष संयुक्त आतंकवादरोधी अभियान का अभ्यास किया। इस अभ्यास को दोनों देशों की सेनाओं से जुड़े अधिकारियों और विशिष्टजनों ने देखा। रक्षा राज्य मंत्री श्री श्रीपद यसो नाइक ने दक्षिणी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल एस.के. सैनी और अभ्यास में हिस्सा लेने वाले दोनों देशों के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने अभ्यास का अवलोकन किया। रूसी पक्ष की तरफ से वहां के पूर्वी सैन्य जनपद के उप-कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल सर्गेई सेरुकोव भी उपस्थित थे। अभ्यास के समापन समारोह में दोनों देशों की सेनाएं शामिल रहीं।

इंद्र-2019 सैन्य अभ्यास दोनों देशों के बीच मैत्री और सौहार्द बढ़ाने में बहुत सफल रहा है। इस अभ्यास से दोनों देशों की सेनाओं को आपसी विश्वास और सहयोग को मजबूती प्रदान करने में बहुत सहायता मिली है।
===================
courtesy