प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने बांग्‍लादेश की प्रधानमंत्री के साथ वर्चुअल बैठक की। कहा – बांग्‍लादेश, भारत की पडोसी पहले नीति का प्रमुख स्‍तम्‍भ है

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने बांग्‍लादेश की प्रधानमंत्री के साथ वर्चुअल बैठक की। कहा – बांग्‍लादेश, भारत की पडोसी पहले नीति का प्रमुख स्‍तम्‍भ है
narendra modi,pm narendra modi,primeminister of india,narendra modi news,narendra modi twitter,todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood news,today india news,today indiaप्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और बंगलादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने आज वर्चुअल माध्‍यम से एक वार्ता की। दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों के सभी पहलुओं पर विस्‍तार से चर्चा की। दोनों ने क्षेत्रीय और अंतर्राष्‍ट्रीय मुद्दों पर भी अपने विचार साझा किए। वार्ता के बाद एक संयुक्‍त बयान जारी किया गया जिसमें कहा गया है कि दोनों पक्षों ने इतिहास, संस्कृति, भाषा और दूसरी समानताओं से जुडे द्विपक्षीय संबंधों की मौजूदा स्थिति पर संतोष व्‍यक्‍त किया। बयान के अनुसार दोनों नेताओं ने भारत और बंगलादेश में कोविड-19 महामारी की स्थिति की भी समीक्षा की और दोनों देशों के बीच इस मामले पर सहयोग करने के बारे में संतोष जाहिर किया। भारत की पडोस पहले की नीति को एक बार फिर दोहराते हुए प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा कि भारत, बंगलादेश को सर्वोच्‍च प्राथमिकता देता है और भारत में जब कोविड वैक्‍सीन विकसित हो जाएगी इसकी आपूर्ति तुरंत बंगलादेश को भी की जाएगी। दोनों नेताओं ने कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए वैक्‍सीन विकसित करने के क्षेत्र में भी दोनों देशों के बीच सहयोग की जरूरत पर भी बल दिया। भारत ने वैक्‍सीन विकसित करने में बंगलादेश को सहयोग देने पर भी सहमति जतायी जिस पर प्रधानमंत्री शेख हसीना ने भारत के प्रति आभार व्‍यक्‍त किया।

बयान में कहा गया है कि 2021 का साल भारत-बंगलादेश द्विपक्षीय संबंधों के लिए ऐतिहासिक होगा क्‍योंकि इससे पचास साल पहले बंगलादेश अस्‍तित्‍व में आया और तभी से दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध जुड गए।

दोनों पक्षों ने संयुक्‍त सीमा सम्‍मेलन की बैठक जल्‍द बुलाने पर भी सहमति जतायी ताकि इच्‍छामती, कालंदी, रमंगोल और खडियाभंग नदियों से भूखंड के नक्‍शे तैयार किए जा सके।

दोनों प्रधानमंत्री, दोनों देशों के बीच अंतर्राष्‍ट्रीय सीमा पर विभिन्‍न सेक्‍टरों पर बाड लगाने के काम और तेज करने पर भी सहम‍त हुए। ये पट्टी त्रिपुरा बंगलादेश सेक्‍टर पर स्थित है। दोनों नेताओं ने सीमा पर नागरिकों के हताहत होने पर भी चिंता जतायी और सीमा सुरक्षा बलों से ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के निर्देश दिए।

वैश्विक शांति और सुरक्षा के लिए आतंकवाद के खतरे को ध्‍यान में रखते हुए दोनों पक्षों ने एक बार फिर दोहराया कि हर प्रकार के आतंकवाद को खत्‍म किए जाने के लिए उनकी प्रतिबद्धता ज्‍यों की त्‍यों बनी हुई है। दोनों प्रधानमंत्री ने 1965 से पहले दोनों देशों के बीच रेलवे संपर्क की बहाली की प्रगति पर भी संतोष व्‍यक्‍त किया।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा पर‍िषद में भारत को सदस्‍य बनाने में बंगलादेश के भरपूर सहयोग के लिए प्रधानमंत्री शेख हसीना का आभार व्‍यक्‍त किया।
=================
courtesy
=================
narendra modi,pm narendra modi,primeminister of india,narendra modi news,narendra modi twitter,todayindia,todayindia news,today india news in hindi,Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood news,today india news,today india