दिल्‍ली पुलिस ने कहा कि 106 लोग हिरासत में लिये गये और 18 एफआईआर दर्ज हुई है

(todayindia),Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood news,today india news,today india
दिल्‍ली पुलिस ने कहा कि 106 लोग हिरासत में लिये गये और 18 एफआईआर दर्ज हुई है
दिल्‍ली पुलिस ने आज कहा है कि हिंसाग्रस्‍त इलाकों में स्थिति नियंत्रण में है और वहां प्रर्याप्‍त संख्‍या में सुरक्षाबल तैनात कर दिये गये हैं। किसी भी स्‍थान से आज किसी अप्रिय घटना का समाचार आज नहीं मिला। दिल्‍ली पुलिस ने यह भी कहा है कि अब तक 18 एफआईआर दर्ज की गयी है और हिंसा की घटनाओं के सिलसिले में 106 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने यह भी कहा है कि हिंसा फैलाने वाले अन्‍य उपद्रवियों की भी पहचान की जायेगी और उनके खिलाफ एफ आई आर दर्ज की जायेगी। दिल्‍ली पुलिस ने दो हेल्‍पलाइन नम्‍बर शुरू किये हैं जिन पर टेलीफोन करके आवश्‍यक जानकारी और सहायता प्राप्‍त की जा सकती है। ये नम्‍बर है–2 2 8 2 9 3 3 4 और 2 2 8 2 9 3 3 5.

पुलिस ने लोगों से अफवाहों पर ध्‍यान नहीं देने को भी कहा है।

इससे पहले दिल्‍ली पुलिस के आयुक्‍त अमूल्‍य पटनायक ने कहा कि उत्‍तर-पूर्वी दिल्‍ली के जिन इलाकों में हिंसा हुई थी वहां काफी हद तक सामान्‍य स्थिति बहाल हो गई है। उन्‍होंने संवाददाताओं को बताया कि पुलिस के वरिष्‍ठ अधिकारी घटना स्‍थलों पर मौजूद हैं और सामान्‍य स्थिति बहाल करने के लिए अतिरिक्‍त बल तैनात कर दिये गये हैं। उन्‍होंने यह भी कहा कि लोगों में भरोसा कायम करने के लिए कई कदम उठाये जा रहे हैं।

पुलिस के अनुसार उत्‍तर-पूर्वी दिल्‍ली में हिंसा की घटनाओं में मृतकों की संख्‍या बढ़कर 18 हो गयी है। सुरक्षाकर्मियों ने आज बाबरपुर, जौहरीपुर और मौजपुर में फ्लैग मार्च किया। कानून और व्‍यवस्‍था के विशेष पुलिस आयुक्‍त एस एन श्रीवास्‍तव और अपराध शाखा के विशेष पुलिस आयुक्‍त सतीश गोलचा ने जाफराबाद इलाके का निरीक्षण किया।

इस बीच, गृह मंत्रालय ने एक परामर्श जारी कर कहा है कि भीड़ की हिंसा और लिंचिंग की घटनाएं जघन्‍य अपराध तथा आपराधिक जुर्म हैं। इस तरह के अपराधों के गंभीर परिणाम हो सकते हैं और कानून के तहत गंभीर सजा दी जा सकती है।(todayindia),Headlines,Latest News,Breaking News,Cricket ,Bollywood news,today india news,today india
=============
courtesy