क्रांतिकारियों की सोच के अनुरूप देश को बनाना है

भोपाल : मंगलवार, अगस्त 23, 2016
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि देश की आजादी के लिये जिन क्रांतिकारियों ने अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया, उनकी सोच के अनुरूप हमें देश को बनाना है। श्री चौहान आज सीहोर जिले के रेहटी में ‘आजादी के 70 वर्ष-याद करो कुर्बानी” कार्यक्रम के अंतर्गत तिरंगा यात्रा का समापन कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान सलकनपुर से रेहटी तक निकाली गयी तिरंगा यात्रा में शामिल भी हुए। उन्होंने रेहटी में 10 करोड़ लागत के 8 विकास कार्य का लोकार्पण किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आज हम सभी लोगों को अपने सद्कार्यों से देश का गौरव बढ़ाने का संकल्प लेना है। उन्होंने कहा कि हमें देश के लिये जीना है और अपने कर्त्तव्यों का निष्ठा के साथ निर्वहन करना है। श्री चौहान ने तिरंगा यात्रा के समापन पर राष्ट्र-ध्वज का पूजन किया। उन्होंने कहा कि यह देश के सम्मान की यात्रा है, इसमें किसी का स्वागत या सम्मान नहीं होगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस मौके पर प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के 250 हितग्राही को गैस कनेक्शन, 1107 हितग्राही को आवासीय पट्टे तथा महाविद्यालयीन छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन भी वितरित किये। श्री चौहान ने रेहटी में 2 करोड़ 90 लाख लागत के स्नातकोत्तर महाविद्यालय भवन, 2 करोड़ 60 लाख लागत के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, एक करोड़ 19 लाख लागत के 3000 मीट्रिक टन क्षमता के गोदाम, एक करोड़ लागत के कवर्ड प्लेटफार्म तथा सलकनपुर में 33 लाख 50 हजार लागत के रैन-बसेरे का लोकार्पण किया। उन्होंने रेहटी महाविद्यालय में बी.एस.सी. एवं बी.कॉम संकाय शुरू करने की भी घोषणा की।

इस मौके पर लोक निर्माण और प्रभारी मंत्री श्री रामपाल सिंह, मार्कफेड के अध्यक्ष श्री रमाकांत भार्गव, मध्यप्रदेश वेयर-हाउसिंग कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह राजपूत, खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे, वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री गुरुप्रसाद शर्मा और लघु वनोपज संघ के उपाध्यक्ष श्री रामनारायण साहू भी उपस्थित थे।