केन्द्रीय मंत्री सुश्री उमा भारती का प्रेस वक्तव्य

भारत सरकार की केन्द्रीय जल संसाधन एवं नदी विकास मंत्री सुश्री उमा भारती ने आज अपने निवास पर पत्रकार बंधुओं से चर्चा करते हुए कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव श्री दिग्विजय सिंह को भाई मानती हूँ वह प्रकरण वापस ले लें तो मुझे अच्छा लगेगा किंतु मैं अपनी तरफ से माफी नहीं मागंूगी। उन्होंने कहा कि मैं माननीय कोर्ट का सम्मान करती हूँ तथा मैं सारे तथ्य कोर्ट में प्रस्तुत करूंगी। मैं तिरंगे के सम्मान पर भ्रष्टाचार पर नैतिक मूल्यों पर समझौता नहीं कर सकती।

उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में सिंचाई एवं कृषि में चमत्कारिक प्रगति हुई है तथा वह इसमें मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान का पूरा सहयोग करूंगी। उन्होंने ललितपुर-सिंगरौली रेलवे लाईन तथा केन बेतवा लिंक के द्वारा मध्यप्रदेश की 15 लाख एकड़ जमीन सिंचित किए जाने के बारे में जानकारी दी तथा वह मध्यप्रदेश की प्रगति एवं विकास में हर तरह से सहयोग करती रहेंगी।

सुश्री उमा भारती ने कहा कि उन पर जो प्रकरण बने है वह तिरंगा फहराने, राम मंदिर आंदोलन तथा मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार के सफाया करने में कारण बने है, इसलिए वह अपने आप को अपराधी नहीं मानती हैं तथा जरूरत पड़ने पर वह बार-बार ऐसे अपराध करेंगी और गौरवान्वित होगी। उन्होंने कहा कि गंगा सफाई अभियान में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं सभी मंत्रालयों के मंत्रीगण उनका भरपूर सहयोग करते है।
courtesy