अरूण जेटली ने सीसीआई के नए कार्यालय का उदघाटन किया

30 AUG 2018
केन्‍द्रीय वित्‍त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्री श्री अरूण जेटली ने कहा है कि भारतीय प्रतिस्‍पर्धा आयोग का और अधिक विस्‍तार होगा क्‍योंकि हमारी अर्थव्‍यवस्‍था का आकार बढ़ रहा है। इस वर्ष शुद्ध आकार की दृष्टि से हमने फ्रांस को पीछे छोड़ दिया है। अगले वर्ष हमें उम्‍मीद है कि हम इंग्‍लैंड की अर्थव्‍यवस्‍था के आकार से आगे निकल जाएंगे और दुनिया में 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था बन जाएंगे। श्री जेटली आज यहां भारतीय प्रतिस्‍पर्धा आयोग (सीसीआई) के नए कार्यालय का उदघाटन कर रहे थे।

तेजी से आगे बढ़ती भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में सीसीआई की भूमिका के बारे में श्री जेटली ने कहा कि भारत की खपत वाली अर्थव्‍यवस्‍था उभर रही है। अनेक क्षेत्रों में हो रही जबरदस्‍त वृद्धि से बड़ी संख्‍या में घरेलू और अंतर्राष्‍ट्रीय दिग्‍गज आकर्षित होंगे। अर्थव्‍यवस्‍था के आकार में वृद्धि होने पर कुछ लोग निष्‍पक्ष बाजार नियमों का पालन नहीं कर पाएंगे, व्‍यवसायी समूहन में शामिल होंगे, लंबवत और क्षितिज संबंध बनाएंगे, मूल्‍यों को प्रभावित करने अथवा प्रतिस्‍पर्धा को कमजोर करने के लिए प्रभावी पदों का दुरूपयोग करेंगे। अत: हर प्रकार के विलयों और अधिग्रहणों को नियंत्रित करने के लिए नियामक तंत्र की जरूरत होगी। ये परिवर्तन काफी बड़े पैमाने पर होंगे और बाजार पर इनका काफी बड़ा असर पड़ेगा।

श्री जेटली ने पैन इंडिया पर बोलते हुए भारत की पूर्वी क्षेत्र की वृद्धि संभावनाओं पर विशेष ध्‍यान केंद्रित किया। उन्‍होंने कहा कि ‘’अगले 10-20 वर्ष में हमारी वृद्धि को आगे ले जाने के लिए हमारे पास अनेक संभावनाएं होंगी। भारत ने देश के उत्‍तरी, दक्षिण और पश्चिमी हिस्‍सों में अधिक वृद्धि देखी है। पूर्वी क्षेत्र अभी भी काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है। हमें उम्‍मीद है कि वहां और वृद्धि देखने को मिलेगी।

उदघाटन समारोह में सीसीआई के अध्‍यक्ष श्री सुधीर मित्‍तल, कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय में सचिव श्री इंजेती श्रीनिवास, आयोग के सदस्‍य, वरिष्‍ठ सरकारी अधिकारी और वकील शामिल हुए।